क्या अब येदियुरप्पा के विधायक हो चुके है बा​गी ?

क्या अब येदियुरप्पा के विधायक हो चुके है बा​गी ?

महामारी कोरोना संकट के बीच एक बार फिर से कर्नाटक में राजनीतिक संकट होता नजर आ रहा है. दरअसल, राज्य में मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के खिलाफ 20 बागी विधायकों ने मोर्चा खोल दिया है. ऐसे में मुख्यमंत्री ने इस संदर्भ में किसी भी प्रकार की आपातकाल बैठक बुलाने की खबरों को खारिज कर दिया है. 

राहुल ने सरकार से मांगी चीन विवाद की जानकारी, बग्गा बोले- ये नेहरू जी वाला भारत नहीं

अपने बयान में आगे मुख्यमंत्री ने कहा कि मैंने देखा कि कुछ न्यूज चैनलों में मेरे द्वारा आपातकाल बैठक बुलाने की खबर चलाई जा रही है, जो कि सच्चाई से कोसो दूर है. मैंने इस प्रकार कि कोई भी बैठक नहीं बुलाई है. उन्होंने ट्वीट करते हुए साफ किया है कि मैं साफ करना चाहता हूं कि मैंने इस तरह की कोई बैठक नहीं की. इसके साथ ही उन्होंने ये जरुर साफ कर दिया है कि उनके निवास पर रमेश काती ने जरुर बैठक ली थी. 

एलेक्स ट्रेबेक काफी समय बाद फीकी नीली शर्ट में आए नजर

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि राज्य में यह सभी बागी विधायक उमेश कत्ती के समर्थक हैं. उमेश बेलगाम जिले के ताकतवर लिंगायत नेता हैं. मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गुरुवार को उन्होंने  20 विधायकों को खाने पर बुलाया था, लेकिन पार्टी में इस बारे में किस भी नेता ने बयान देने से इनकार किया है. बताया जा रहा है कि यह सभी विधायक मुख्यमंत्री के खिलाफ गोलबंद हो रहे हैं. बागी विधायकों का आरोप है कि मुख्यमंत्री उनसे किसी भी विषय पर बातचीत करने को तैयार नहीं है. यही नहीं मुख्यमंत्री पर यह भी आरोप लगाया गया है कि कोरोना संकट में भी उन्होंने राज्य में कोई विशेष ध्यान नहीं दिया है. 

बिहार में उड़ी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियाँ, तेजस्वी यादव के घर जमा हुए सैकड़ों राजद कार्यकर्ता

कैलिफ़ोर्निया काउंटी खोलने का प्रस्ताव हुआ रद्द

इस शख्स को विप्रो के ​मैनेजिंग डायरेक्टर के पद पर किया गया नियुक्त