बढ़ती जनसँख्या को हमें पूंजी के तौर पर बदलना होगा : प्रकाश जावड़ेकर

Aug 30 2018 04:13 PM
बढ़ती जनसँख्या को हमें पूंजी के तौर पर बदलना होगा : प्रकाश जावड़ेकर

नई दिल्ली : मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने आज कहा कि हमें भारत में अपनी बढ़ती जनसख्याँ को पूंजी के रूप में तब्दील करना चाहिए. जावड़ेकर ने कहा और ऐसा तब हो सकता है जब हम नवीन गतिविधियों की ओर बढ़ेंगे. मंत्री जावड़ेकर ने कहा, 'हम नवीन गतिविधियों में काफी पीछे हैं, जब तक भारत नवीन कार्यों को आगे नहीं बढ़ायेंगे, हम समृद्ध नहीं हो सकते. ऐसे देश ही आगे बढ़ पाए हैं जिन्होंने नवीन निर्माण किया है.' 

चोटी काटने के बाद एक और गैंग का मच रहा हड़कंप

मंत्री ने आगे कहा देश की बेहतरी के लिये नवीन कार्यों को आगे बढ़ाना एक बेहत कठिन काम है. जावड़ेकर ने कहा कि 'दुनिया में कुल क्षेत्रफल में भारत का क्षेत्रफल केवल 2.5 प्रतिशत ही है. भारत में 17 प्रतिशत आबादी पर केवल एक प्रतिशत ताजा पानी है. इन सीमाओं के अंदर रहते हुए भारत की फलीफूली संस्कृति रही है.' जावड़ेकर ने कहा, ‘‘भारत अपनी आबादी को पूंजी में तब्दील कर सकता हैं, जब हम नवीन कार्यो को शुरू करेंगे और आगे बढ़ाएंगे.' 

अब विपक्षी दलों में युवा संगठन भी बनाएंगे ‘महागठबंधन’

आज नव प्रवर्तन प्रकोष्ठ तथा अटल नवोन्मेषी संस्थान उपलब्धि रैंकिंग एआरआईआईए रैंकिंग की शुरूआत करते वक्त मानव संसाधन विकास मंत्री यह बाते कही. इस संस्थान के तहत उच्च शैक्षणिक संस्थानों की, विशिष्ट समस्याओं का नवीन समाधान प्रदान करने और शोध कार्यों को जन कल्याण से जोड़ने की क्षमता के आधार पर रैंकिंग की जाएगी.

ख़बरें और भी...

इन 7 परियोजना से आएंगे भारतीय रेल में बदलाव

इस एक्टर के बेटे ने पूरा किया फिटनेस चैलेंज , अब बारी है तैमूर की

मेरठ-दिल्ली रोड पर दर्दनाक हादसा, 4 की मौत, कई लोगों को कुचला

 

 

?