पाकिस्तान का आतंक के खिलाफ एक्शन, मसूद अज़हर के भाई सहित 44 आतंकी गिरफ्तार

पाकिस्तान का आतंक के खिलाफ एक्शन, मसूद अज़हर के भाई सहित 44 आतंकी गिरफ्तार

इस्लामाबाद: पुलवामा में CRPF के काफिले पर हुए आतंकी हमले के बाद से चौतरफा घिरे पाकिस्तान ने अब आतंकी संगठन जैश सरगना मसूद अजहर के दो भाइयों सहित 44 आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया है. पाकिस्तान के आंतरिक मामलों के मंत्री शहरयार अफ्रीदी ने आज बयान देते हुए कहा है कि मसूद अजहर के भाई मुफ्ती अब्दुल रऊफ और हम्माद अजहर सहित 44 आतंकियों को हिरासत में लिया गया है. हालांकि शहरयार ने यह दावा भी किया है कि ये गिरफ्तारियां किसी तरह के दबाव में आकर नहीं की गई हैं.

बांगर के अनुसार से इस तरह से चुनी जाएगी वर्ल्ड कप के लिए टीम

एक प्रेस वार्ता में शहरयार ने दावा किया है कि पाकिस्तान सरकार की ये कार्यवाही किसी बाहरी दबाव में नहीं की गई है. ये कार्रवाई सभी प्रतिबंधित संगठनों के विरुद्ध की गई है. जैश के सरगना मसूद अजहर के भाई मुफ्ती अब्दुल रऊफ और हम्माद अजहर को गिरफ्तार किए जाने को भले ही पाकिस्तान, भारत का दबाव मानने से मना करता रहे, किन्तु ये जगजाहिर है कि पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान पर आतंकी संगठनों पर कार्यवाही लेने का चौतरफा दबाव पड़ रहा है. इसीलिए पाकिस्तान ने मसूद अजहर के दोनों भाइयों को हिरासत में लिया है. शहरयार ने प्रेस वार्ता में कहा है कि भारत ने आतंकी हमले से सम्बंधित जो डोजियर हमें सौंपा है, उसमें मसूद के इन दोनों भाइयों का नाम भी शामिल था.

पाकिस्तान का दावा, हमारी सीमा में घुस आई थी भारतीय पनडुब्बी, पाक नेवी ने खदेड़ा

पाकिस्तान के मंत्री ने दावा किया है कि सोमवार को नेशनल एक्शन प्लान के तहत एक मीटिंग बुलाई गई थी, जिसमें  निर्धारित किया गया कि प्रतिबंधित किए गए सभी संगठनों के विरुद्ध तेजी से कार्रवाई की जाए. पुलवामा में आतंकी हमला होने के बाद से चौतरफा घिरा पाकिस्तान अब विश्व को दिखाना चाहता है कि वो आतंकवाद पर लगाम लगाने के लिए कार्यवाही कर रहा है, किन्तु हकीकत कुछ और ही है. दरअसल पाकिस्तान ऐसा कर विश्व की आंख में धूल झोंकने का प्रयास कर रहा है. इसका उदहारण उस वक़्त भी दिखा था,  जब उसने दावा किया कि JuD पर बैन लगा दिया गया है, जबकि ऐसा था नहीं.

खबरें और भी:-

विश्व की सबसे प्रदूषित राजधानीयों में शीर्ष स्थान पर दिल्ली

वर्ल्ड कप के बाद इमरान ताहिर भी कहेंगे क्रिकेट को अलविदा

नोबल शांति पुरस्कार पर बोले इमरान खान, कहा मैं नहीं इसके लायक