नोबल शांति पुरस्कार पर बोले इमरान खान, कहा मैं नहीं इसके लायक

नई दिल्ली: अभिनंदन की वतन वापसी के बाद भी भारत और पाकिस्तान के मध्य बॉर्डर पर तनाव कम नहीं हो रहा है. भारत के कूटनीतिक दवाब के समक्ष 60 घंटे के अंदर देश के वीर सैनिक विंग कमांडर अभिनंदन स्वदेश लौट आए थे. पाकिस्तान के लोग इसे पीएम इमरान खान की रहमदिली के रूप में देख रहे हैं. इसके बाद से ही पाकिस्तान में इमरान को नोबल शांति पुस्कार देने की मांग उठने लगी. 

फिर ग्राहकों को खुश कर गई Airtel, एक साथ पेश किए 3 इंटरनेशनल रोमिंग प्लान्स

नोबेल शांति पुरस्कार को लेकर अब में पाकिस्तान के पीएम इमरान खान ने प्रतिक्रिया दी है. उनके बयान को उनकी पार्टी पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ ने ट्विटर पर पोस्ट किया है. इस बयान को 'पीटीआई' ने हिंदी में पोस्ट किया है, जिस पर डॉ. कुमार विश्वास ने चुटकी ली है. दरअसल, पाकिस्तान के पीएम इमरान खान द्वारा नोबेल शांति पुरस्कार पर दिए बयान को विशुद्ध हिंदी में ट्वीट किया गया ha. इस ट्वीट पर कवि डॉ. कुमार विश्वास ने चुटकी लेते हुए अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट किया है कि, 'भारत ने हिंदी कर दी इनकी'. 

इमरान ने भी माना वे नहीं है 'नोबेल शांति पुरस्कार' के हक़दार, दिया हैरान करने वाला बयान

वहीं इससे पहले पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ पार्टी ने खान का हवाला देते हुए ट्वीट किया है कि, 'मैं नोबेल शांति पुरस्कार के योग्य नहीं हूं. इसका योग्य व्यक्ति वह होगा जो कश्मीरी लोगों की इच्छा के अनुसार कश्मीर विवाद का समाधान करता है और उपमहाद्वीप में शांति एवं मानव विकास का मार्ग प्रशस्त करता है.'

खबरें और भी:-

पाकिस्तान से 150 यात्रियों को लेकर भारत रवाना हुई समझौता एक्सप्रेस

वेस्टइंडीज के इस खिलाड़ी ने कहा- 'प्रतिद्वंद्वियों के लिए खतरा होगी हमारी टीम'

अमेरिका में आया जानलेवा तूफ़ान, 14 की मौत, सैकड़ों लापता

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -