12 राज्यों में कांग्रेस को कोई खतरा नहीं- चिदंबरम

12 राज्यों में कांग्रेस को कोई खतरा नहीं- चिदंबरम

नई दिल्ली: कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गाँधी की अध्यक्षता में आज कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक हुई, जिसमे कांग्रेस के कई बड़े नेता शामिल थे. इस बैठक में 2019 की चुनावी रणनीति पर चर्चा की गई, साथ ही सोनिया गाँधी समेत सभी दिग्गज नेताओं ने भाजपा के खिलाफ महागठबंधन की रणनीति को सही बताया. इनके अलावा पूर्व वित्त मंत्री पी चिदंबरम ने बैठक में 2019 लोकसभा चुनाव को जीतने का फार्मूला बताया.

कटाक्ष: 24 घंटे बाद भी राहुल की आँख का जादू बरक़रार

पी चिदंबरम ने अपने प्रेजेंटेशन में बताया कि भारत के 12 राज्यों में  कांग्रेस की स्थिति अच्छी है, जहाँ कांग्रेस बिना गठबंधन के भी बेहतर परिणाम प्राप्त कर सकती है. पी चिदंबरम ने अपने जुटाए आंकड़ें के अनुसार बताया कि उन्हें पुआ विश्वास है कि 2019 के लोकसभा चुनाव में इन 12 राज्यों में से 150 सीटें कांग्रेस की होंगी. 

CWC बैठक : राहुल ने पहली बार की अध्यक्षता, सोनिया बोली-सरकार की उल्टी गिनती शुरू

इन 12 राज्यों के अलावा दूसरे राज्यों के लिए भी चिदंबरम ने अपनी रणनीति बताते हुए कहा कि बाकी के राज्यों में पार्टी को दूसरी छोटी पार्टियों को अपने में शामिल करके ताकत बटोरनी होगी. जिससे पीएम मोदी के नेतृत्व वाली भाजपा को पटखनी दी जा सके. बैठक में एक और बात पर सहमति बनी कि महागठबंधन में चाहे जितने भी दल आकर शामिल हों, लेकिन उनका नेतत्व राहुल गाँधी के हाथ में ही रहेगा. कांग्रेस की इन रणनीतियों को देख कर साफ़ लगता है कि उत्तर प्रदेश में गठबंधन के द्वारा उपचुनाव जीतने के बाद से कांग्रेस को गठबंधन पर कुछ ज्यादा ही भरोसा हो गया है. लेकिन ये देखना दिलचस्प होगा कि दूसरी पार्टियां , कांग्रेस में शामिल होकर उसकी नाव खेने का काम करते हैं या डुबाने का.  

कांग्रेस नेताओं को राहुल की चेतावनी, ना करें गलत बयानबाज़ी

GST दर में कटौती पर भड़के चिदंबरम कहा-चुनाव को देखते हुए लिया यह फैसला

कांग्रेस का नया नारा, नफरत से नहीं प्यार से जीतेंगे

 

?