लोकसभा चुनाव: शिवपाल पर अब 'मुलायम' नहीं रहे 'नेताजी', दे डाला बड़ा बयान

लोकसभा चुनाव: शिवपाल पर अब 'मुलायम' नहीं रहे 'नेताजी', दे डाला बड़ा बयान

इटावा: 2019 लोकसभा चुनाव में उत्तर प्रदेश की तमाम 80 लोकसभा सीट पर उम्मीदवार उतारने वाले प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव भले ही समाजवादी पार्टी (सपा) के संस्थापक मुलायम सिंह यादव से आशीर्वाद ले रहे हैं, किन्तु अब नेताजी, शिवपाल से किनारा करते नज़र आ रहे हैं। इटावा से लखनऊ जाते वक़्त आज मुलायम सिंह यादव से जब शिवपाल सिंह यादव के बारे में सवाल किया गया कि शिवपाल की चिंता मैं क्यों करूं, मैं खुद भी तो चुनाव लड़ रहा हूं।

लोकसभा चुनाव: उर्मिला को कांग्रेस से मिला टिकट, इस सीट से लड़ेंगी चुनाव

मुलायम सिंह यादव ने अपने छोटे भाई शिवपाल यादव से किनारा करने का इशारा कर दिया है। शिवपाल सिंह यादव की चुनावी सभा में जाने का सवाल किए जाने पर मुलायम सिंह ने कहा है कि मैं क्यों चिंता करूं कि शिवपाल की रैली में कौन जा रहा और है कौन नहीं। चुनाव का वक़्त है, तो रैलियां तो होना ही है। अगर किसी को शुभकामनाएं देनी है, तो मुझे दे मैं भी तो चुनाव लड़ रहा हूं। एक्सप्रेस वे से लखनऊ जाते वक़्त मुलायम सिंह यादव, शिवपाल यादव के बारे में पूछे जाने पर नेताजी के इतना गरम होने से लग रहा है कि अब वे शिवपाल सिंह यादव के प्रति मुलायम नहीं रहे।

लोकसभा चुनाव: टिकट ना मिलने से नाराज़ हुए राजद नेता, निर्दलीय लड़ सकते हैं अली अशरफ फातमी

यह पूछे जाने पर कि शिवपाल सिंह 30 अप्रैल को नामांकन भरने जा रहे हैं, क्या आप उन्हें बधाई देंगे, इस पर मुलायम सिंह ने हंसते हुए जवाब दिया और कहा कि नामांकन भरने तो मैं भी जा रहा हूं। इसलिए बधाई मुझे भी दी जाए। आपको बता दें कि मुलायम सिंह यादव एक अप्रैल को मैनपुरी लोकसभा सीट से नामांकन भरने जा रहे हैं।

खबरें और भी:-

कांग्रेस ने हमेशा हिन्दू-मुस्लिम को लड़वाया, इसलिए नहीं सुलझ पाया अयोध्या विवाद - इक़बाल अंसारी

लोकसभा चुनाव: प्रियंका के अयोध्या दौरे पर इकबाल अंसारी का तंज, कहा - दर्शन करें और वापस लौट जाएं

लोकसभा चुनाव: बिहार महागठबंधन का पेंच सुलझा, ये है राजद और कांग्रेस का सीट शेयरिंग फार्मूला