क्या असम में भी बिना पटाखों के मनेगी दिवाली ? सीएम सरमा बोले- जनभावना के हिसाब से होगा फैसला

गुवाहाटी: असम में दीवाली के पर्व पर पटाखों पर पूर्ण प्रतिबंध की घोषणा की गई थी। अब राज्य के सीएम हिमंता बिस्वा सरमा ने कहा है कि ये आदेश सरकार से सलाह-मशविरा किए बगैर ही जारी किया गया था। सीएम सरमा ने आगे कहा कि, 'असम पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड ने स्वतः संज्ञान लेते हुए राज्य सरकार से विचार-विमर्श किए बगैर ही पटाखों की बिक्री पर पूर्ण प्रतिबंध लगाने का आदेश जारी किया कर दिया और कई अन्य बंदिशें लगाईं। हमने इसका संज्ञान लिया है।'

सीएम सरमा ने आगे कहा कि इस पूरे मामले की समग्र रूप से ताज़ा समीक्षा की जा रही है और इस दौरान जनभावनाओं का भी ख्याल में रखा जा रहा है। बता दें कि ‘असम पॉल्यूशन कंट्रोल बोर्ड’ ने ‘ग्रीन क्रैकर्स’ के अतिरिक्त तमाम प्रकार के पटाखों की बिक्री पर रोक लगा दी थी। उसने कहा था कि ‘नेशनल ग्रीन ट्रिब्यूनल (NGT)’ की गाइडलाइन्स के अनुसार ही दीवाली से पहले ये फैसला लिया गया है। आदेश में कहा गया था कि अगली अधिसूचना जारी होने तक ये आदेश तत्काल प्रभाव से लागू रहेगा। 

इसका मतलब था कि दिवाली और देवउठनी ग्यारस के पर्व पर पटाखों पर प्रतिबंध रहेगा। वायु प्रदूषण को नियंत्रण में रखने का हवाला देते हुए ये आदेश जारी किया गया था। PCB के अध्यक्ष अरूप कुमार मिश्रा ने जानकारी देते हुए बताया था कि सभी एसपी और डिप्टी कमिश्नरों को पत्र लिख कर बोर्ड ने इस आदेश का पालन करवाने के लिए कहा है।

नितिन गडकरी ने ढाबा मालिकों को पेट्रोल पंप खोलने की अनुमति देने की बनाई योजना

मध्य प्रदेश में कांग्रेस को एक और झटका, MLA सचिन बिरला ने थामा भाजपा का दामन

पीएम मोदी ने शुरू की अयुष्मान भारत हेल्थ इंफ्रास्ट्रक्चर मिशन, जानिए इसमें क्या है ख़ास

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -