उमा भारती का बड़ा बयान, कहा अयोध्या में राम मंदिर के अलावा कुछ नहीं बनेगा

नई दिल्ली: राम मंदिर मसले का समाधान निकालने के लिए सुप्रीम कोर्ट की तरफ से 3 मध्यस्थों को नियुक्त किए जाने पर केंद्रीय मंत्री उमा भारती का कहना है कि हम सर्वोच्च न्यायालय को कुछ कहेंगे नहीं. हम उनका सम्मान करते हैं, किन्तु हम राम भक्त हैं और राम सारे ब्रह्मांड के स्वामी हैं. हम तो एक ही बात कहेंगे कि जहां रामलला उपस्थित हैं वहां कोई अन्य धर्म स्थल नहीं बन सकता.

केजरीवाल ने किया पीएम मोदी पर हमला, कहा हमारे वाले भी दे सकते हैं गाली

शीर्ष अदालत की तरफ से मध्यस्थ नियुक्त किए जाने के बाद अयोध्या मामले पर तेजी आ गई है. देश की सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद केंद्रीय मंत्री उमा भारती ने कहा है कि हम अदालत का सम्मान करते हैं, हम अदालत के फैसले पर कुछ नहीं कहेंगे. हमारा मात्र यही कहना है कि जैसे वेटिकन सिटी में मस्जिद नहीं बन सकती. जिस तरह मक्का मदीना में राम मंदिर नहीं बन सकता. इसी तरह जहां पर राम लला स्थित हैं, वहां पर रामलला के मंदिर के अलावा कोई अन्य धर्म स्थल का निर्माण नहीं हो सकता.

ममता बनर्जी ने महिला दिवस पर दी बधाई, कही ये बड़ी बात

उन्होंने आगे कहा है कि भारत एक सेकुलर देश है. अयोध्या और फैजाबाद में भी कई मस्जिदें बनी हुई हैं, किन्तु जहां रामलला हैं वहां पर तो सिर्फ राम मंदिर ही बनेगा. जो भी रास्ता निकले, किन्तु इसके अलावा कुछ और नहीं बनेगा. उमा भारती ने कहा है कि अदालत ने तो शुरू से ही कहा है यह विवादित जमीन है. यह भूमि विवाद का मामला है और यहां पर आस्था का कोई विवाद नहीं है. सीधे-सीधे वहां राम जन्म भूमि है. दोनों पार्टियां अगर वार्तालाप कर लें तो अदालत उसको मान्यता देता है. उन्होंने कहा कि राम मंदिर बनेगा यह सभी को पता है. 

खबरें और भी:-

राम मंदिर मामला: श्री श्री रविशंकर करेंगे मध्यस्थता, अयोध्या के साधुओं ने जताई आपत्ति

क्या भाजपा में शामिल होंगे अल्पेश ठाकोर, आज होगा ऐलान

नितिन गडकरी करने वाले थे पुल का उद्घाटन, उससे पहले ही 'दीदी' के मंत्री ने काट दिया फीता

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -