+

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए नही इकट्ठा किया जा रहा चंदा, अवैध तरीको के इस्तेमाल की आशंका

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए नही इकट्ठा किया जा रहा चंदा, अवैध तरीको के इस्तेमाल की आशंका

रविवार को बयान जारी विश्व हिंदू परिषद (विहिप) ने कहा कि अयोध्या में राम जन्मभूमि पर मंदिर निर्माण के लिए किसी प्रकार का धन संग्रह नहीं किया जा रहा है. विहिप के अंतरराष्ट्रीय महामंत्री मिलिंद परांडे ने बयान जारी कर बताया कि विश्व हिंदू परिषद या श्री राम जन्मभूमि न्यास के द्वारा 1989 के बाद से कोई सार्वजनिक तौर पर ना तो धन संग्रह किया गया है और न ही इसके लिए कोई आह्वान किया गया है.

सर्वदलीय बैठक में विपक्ष की मांग, फ़ारूक़ अब्दुल्ला को मिले संसद सत्र में शामिल होने की इजाजत

विहिप के प्रवक्ता विनोद बंसल के अनुसार, उन्हें आशंका है कि विश्व हिंदू परिषद के नाम पर अवैध तरीके से धन इकट्ठा किया जा सकता है.विहिप ने लोगों को सावधान करने के लिए अपना बयान जारी किया है ताकि लोग सावधान रहें.

सीएम योगी के शासन में किसानों का प्रदर्शन, उन्नाव के गोदाम में लगाई आग

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि 9 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या में राम मंदिर निर्माण करने का अधिकार हिंदू पक्ष को दे दिया था. इसके साथ ही केंद्र सरकार को इसके लिए एक ट्रस्ट बनाने का निर्देश दिया था जो कि मंदिर निर्माण संबंधी फैसले लेगी. सुप्रीम कोर्ट के अपने फैसले में अयोध्या की 2.77 एकड़ विवादित जमीन पर रामलाल विराजमान को मंदिर बनाने के लिए दी है. इसके साथ ही यह निर्देश दिया है कि मंदिर निर्माण के लिए केंद्र ट्रस्ट बनाए और उसमें निर्मोही अखाड़े को भी प्रतिनिधित्व दिया जाय. इसके अलावा शीर्ष न्याय ने मुस्लिम पक्ष को मस्जिद बनाने के लिए एक एकड़ जमीन देने का आदेश सरकार को दिया है.

महाराष्ट्र को लेकर सियासी जंग तेज, मल्लिकार्जुन खड़गे ने राज्यपाल पर लगाए संगीन आरोप

शनिवार को बेंगलुरू में योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा कि प्रधानंत्री नरेंद्र मोदी को रामनवमी के दिन अयोध्या में राम मंदिर निर्माण का शिलान्यास करना चाहिए. बाबा रामदेव ने कहा कि राम मंदिर महान वैदिक संस्कृति को दर्शाने वाला होना चाहिए. पांच दिन के योग प्रशिक्षण के लिए उडुपी पहुंचे बाबा रामदेव ने पत्रकारों से कहा कि हिंदुओं के धार्मिक स्थलके रूप में अयोध्या का विकास ठीक उसी तरह होना चाहिए जैसे ईसाइयों के लिए वेटिकन, मुस्लिमों के लिए मक्का और सिखों के लिए अमृतसर में स्वर्ण मंदिर है.

गोरखपुर में लगा सीएम योगी का जनता दरबार, किया समस्यायों का समाधान

राफेल मामला: बिहार में भाजपा का विरोध प्रदर्शन, कहा- सार्वजनिक तौर पर माफ़ी मांगे राहुल

अयोध्या मामले पर AIMPLB की बैठक, अरशद मदनी बोले- दायर की जाए पुनर्विचार याचिका