एनसीपी ने जारी की उम्मीदवारों की पहली सूची, पारम्परिक सीट से ताल ठोकेंगी सुप्रिया सुले

एनसीपी ने जारी की उम्मीदवारों की पहली सूची, पारम्परिक सीट से ताल ठोकेंगी सुप्रिया सुले

मुंबई: राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) ने लोकसभा चुनाव के लिए 10 प्रत्याशियों की सूची जारी कर दी है. एनसीपी प्रमुख शरद पवार की बेटी सुप्र‍िया सुले को एक बार फिर से बारामती लोकसभा सीट से मैदान में उतारा गया है. दरअसल सुले गत 2 बार से यहां की सांसद रही हैं. बारामती पवार परिवार का किला माना जाता है. इस सीट से शरद पवार 6 बार संसद पहुंचे हैं.

आप नेताओं ने चुनाव आयोग और पीएम मोदी को लिखे पत्र, इन बातों पर जताई आपत्ति

वहीं एक बार शरद पवार के भतीजे अजीत पवार भी इसी सीट से चुनाव लड़कर सांसद बन चुके हैं. गत 27 वर्षों से इस सीट पर पवार परिवार का कब्ज़ा रहा है. बारामती में 23 अप्रैल को मतदान होगा. माइक्रो बायोलॉजी से बीएससी की डिग्री प्राप्त करने वालीं सुप्र‍िया सुले का विवाह 1991 में सदानंद भालचंद्र सुले से हुआ. सुले की केंद्रीय राजनीति में आधिकारिक एंट्री वर्ष 2006 में हुई, जब वे पहली मर्तबा राज्यसभा की सांसद बनीं. इसके बाद वर्ष 2009 में वे पहली बार लोकसभा पहुंची. उन्होंने इस चुनाव में बहरतीय जनता पार्टी (भाजपा) की कांता नलवाडे को हराया.

अक्षय कुमार लड़ सकते हैं लोकसभा चुनाव! खुद बताया अपना प्लान

सुले ने प्रदेश  स्तर पर भ्रूण हत्या के खिलाफ काफी प्रभावशाली कैंपेन चलाया था. अपने नेतृत्व में ही सुले ने वर्ष 2012 में 'राष्ट्रवादी युवती कांग्रेस' विंग भी बनाई जिसका मकसद युवा लड़कियों को राजनीति के लिए प्रेरित करना था. सुप्र‍िया सुले का सांसद में प्रदर्शन बेहतरीन रहा है. संसद में इनकी उपस्थिति 96 प्रतिशत रही. वहीं, इन्होंने 142 डिबेट में भाग लिया. संसद में इन्होंने 1156 सवाल किए. प्राइवेट मेंबर्स बिल लाने में इनका कोई मुकाबला नहीं रहा. वे अकेले 22 बिल लेकर आईं.

खबरें और भी:-

राजस्थान में हुई चुनाव आयोग की बैठक, तैयारियों को लेकर की गई समीक्षा

पूर्व सांसद आनंद मोहन का बड़ा बयान, कहा - हम कोई फूटबाल नहीं जो कोई किक मारकर किनारे कर दे..

भाजपा में शामिल होकर बोले 'दीदी' के MLA, अब देश के लिए करूँगा काम