राजस्थान में हुई चुनाव आयोग की बैठक, तैयारियों को लेकर की गई समीक्षा

राजस्थान में हुई चुनाव आयोग की बैठक, तैयारियों को लेकर की गई समीक्षा

जयपुर: 2019 लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर बुधवार को चुनावी खर्च अनुवीक्षण के संबंध में विभिन्न विभागों के नोडल अधिकारियों की बैठक की गई. बैठक में आबकारी, आयकर, नारकोटिक्स, रेलवे, वाणिज्य कर, एयरपोर्ट आथोरिटी विभाग के अफसरों ने भाग लिया. सचिवालय परिसर स्थित समिति कक्ष में की गई इस बैठक में मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने सभी नोडल अधिकारियों से चुनावी तैयारियों के लिए चर्चा की है. 

भाजपा में शामिल होकर बोले 'दीदी' के MLA, अब देश के लिए करूँगा काम

इस दौरान उन्होंने कहा है कि आचार संहिता के दौरान पर्ची के आधार पर शराब न बिके. इसके साथ ही हर दिन शराब की बिक्री की निगरानी भी की जाए. उन्होंने गोदाम से शराब बिक्री न करने, निगरानी के लिए मुखबिरों की संख्या बढ़ाने और चैक पोस्ट की संख्या में इजाफा करने पर जोर दिया. बैठक के दौरान उन्होंने वहां उपस्थित अधिकारियों को निर्देश दिया है कि राज्य स्तरीय बैंकिंग समिति, राज्य में एक लाख रुपए से अधिक के लेन-देन करने वालों पर कड़ी निगाह रखे और चुनाव में प्रत्याशी के अलग अकाउंट खोलने के लिए सभी बैंकों को निर्देश जारी किए हैं. उन्होंने कहा है कि आयकर विभाग एयरपोट्र्स नगदी पर निगाह रखने के लिए टीमें गठित की जाए. साथ ही हर जिलों में भी आयकर विभाग की टीमें बनाई जाएं.

लोकसभा चुनाव: कांग्रेस के लिए बुरी खबर, राहुल गाँधी के करीबी नेता ने थामा भाजपा का हाथ

मुख्य निर्वाचन अधिकारी सुनील अरोड़ा ने गृह विभाग के अधिकारियों को कानून एवं व्यवस्था के लिए उचित इंतज़ाम  करने के साथ जिलेवार फ्लाइंग स्क्वायड बनाने, नगदी पर निगाह करने सहित बैठक में उपस्थित अन्य विभागों को भी आवश्यक निर्देश दिए. उन्होंने रेलवे अधिकारियों को नगदी, शराब एवं मादक पदार्थों की आवाजाही पर कड़ी निगाह रखने के साथ ही 10 लाख रुपए से अधिक की जब्ती पर आयकर विभाग को तत्काल सूचित करने के लिए कहा है. 

खबरें और भी:-

लोकसभा चुनाव: आप के साथ गठबंधन करें या नहीं, कांग्रेस जनता को लगा रही फ़ोन

जब भी भारत को पीड़ा होती है, राहुल गाँधी को ख़ुशी मिलती है - कानून मंत्री

गजब ढा रही है प्रदेश की लंगड़ी सरकार : शिवराज