आप नेताओं ने चुनाव आयोग और पीएम मोदी को लिखे पत्र, इन बातों पर जताई आपत्ति

आप नेताओं ने चुनाव आयोग और पीएम मोदी को लिखे पत्र, इन बातों पर जताई आपत्ति

नई दिल्ली: 2019 लोकसभा चुनाव की घोषणा के साथ ही आम आदमी पार्टी (आप) के प्रत्याशियों ने चुनाव आयोग से लेकर पीएम नरेंद्र मोदी को खत लिखकर आपत्ति और सुझाव देने का सिलसिला आरम्भ कर दिया है. इस बीच साउथ दिल्ली से प्रत्याशी राघव चड्ढा ने चुनाव आयोग और उत्तरी-पूर्वी दिल्ली से प्रत्याशी दिलीप पांडेय ने पीएम मोदी को एक खत लिखा है.  

राजस्थान में हुई चुनाव आयोग की बैठक, तैयारियों को लेकर की गई समीक्षा

आम आदमी पार्टी (आप) के दक्षिणी दिल्ली से लोकसभा प्रत्याशी राघव चड्ढा ने दिल्ली के मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा को चुनाव आयोग के निर्देशों के जवाब में एक पत्र भेजा है. जिसमें उन्होंने विशेष रूप से दिल्ली के सीएम केजरीवाल की तस्वीरों को हटाने/छिपाने और 'आम आदमी' शब्द को हटाने के आदेश पर आपत्ति और असहमति व्यक्त की है. राघव चड्ढा के अनुसार पीएम मोदी की तस्वीरें शहर भर में कई सरकारी या गैर-सरकारी सन्दर्भ में अंकित है और उन्हें भी उसी मानकों और नियमों के हिसाब से होना चाहिए जैसे नियम दिल्ली के सीएम पर लगाए जा रहा है. चड्ढा ने खत में आग्रह करते हुए लिखा है कि सभी पक्षों को समान निर्देश जारी किए जाने चाहिए ताकि स्वतंत्र और निष्पक्ष चुनाव सुनिश्चित कराए जा सकें.

पूर्व सांसद आनंद मोहन का बड़ा बयान, कहा - हम कोई फूटबाल नहीं जो कोई किक मारकर किनारे कर दे..

इसके साथ ही आप के उत्तर-पूर्वी दिल्ली के लोकसभा उम्मीदवार दिलीप पाण्डेय ने अतिथि शिक्षकों को स्थायीकरण करने की मांग को लेकर पीएम मोदी को खत लिखा. पांडेय ने लिखा है कि दिल्ली के सरकारी स्कूलों में शिक्षा दे रहे अतिथि अध्यापकों को स्थायी करने के लिए दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने उप-राज्यपाल को दो बार अलग-अलग प्रस्ताव पहुंचाए हैं. इसके बाद भी अब तक उप-राज्यपाल की ओर से कोई जबाव नहीं आया है. आप जल्द ही उप-राज्यपाल को इस कैबिनेट के फैसले पर सहमती प्रदान करने के लिए निर्देंश जारी करें.

खबरें और भी:-

भाजपा में शामिल होकर बोले 'दीदी' के MLA, अब देश के लिए करूँगा काम

लोकसभा चुनाव: कांग्रेस के लिए बुरी खबर, राहुल गाँधी के करीबी नेता ने थामा भाजपा का हाथ

लोकसभा चुनाव: आप के साथ गठबंधन करें या नहीं, कांग्रेस जनता को लगा रही फ़ोन