खंडवा में मालगाड़ी के एलपीजी टैंकर से गैस रिसाव होने पर मचा हड़कंप

खंडवा: शुक्रवार शाम रेलवे स्टेशन पर करीब पांच बजे हड़कंप मच गया. कोकण रेलवे से रतलाम जाने के लिए रवाना हुई एलपीजी टैंकरों की मालगाड़ी खंडवा स्टेशन पर पहुंची. यहां एक टैंकर से गैस रिसाव होने से अफरा-तफरी सी मच गई. सूचना मिलते ही कलेक्टर तन्वी सुंद्रियाल और एसपी डॉ. शिवदयाल सिंह को मोर्चा संभालना पड़ा. गैस रिसाव के वजह से स्टेशन की विद्युत लाइन बंद कर दी गई.

हालांकि लीकेज रोकने के लिए पीथमपुर से विशेष टीम बुलाई गई है. शाम करीब चार बजे एलपीजी टैंकरों को लेकर मालगाड़ी खंडवा स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर दो पर आकर रुकी. यहां करीब एक घंटे खड़ी होने के बाद रेलवे कर्मचारियों को प्लेटफार्म नंबर दो पर ब्रिज के नीचे खड़े एक टैंकर से गैस रिसाव होता दिखाई दिया. इसकी जानकारी मिलते ही स्टेशन पर हड़कंप मच गया. जीआरपी, आरपीएफ और स्टेशन के कर्मचारी सक्रिय हो गए.

बता दें की कलेक्टर सुंद्रियाल और एसपी डॉ. सिंह पहुंचे. एसडीएम संजीव पांडे और नगर पुलिस अधीक्षक ललित गठरे ने रेलवे ट्रैफिक इंस्पेक्टर सुनील गुप्ता से इस विषय पर चर्चा की. करीब एक घंटे बाद भी रिसाव को बंद नहीं किया जा सका. इसके साथ ही स्टेशन की लाइन और ओएफसी लाइन बंद कर दी गई. ट्रैफिक इंस्पेक्टर गुप्ता ने बताया कि डीजल इंजन उपलब्ध नहीं है. गैस होने से इलेक्ट्रिक इंजन का उपयोग नहीं कर सकते हैं. इसके लिए प्लेटफॉर्म पर किसी ट्रेन को नहीं आने दिया जाएगा. ट्रेनों की आवाजाही पर प्रतिबंध रहेगा. एसडीएम संजीव पांडे ने बताया कि पीथमपुर से टीम खंडवा के लिए रवाना हो रही है. उनके आने के बाद ही गैस रिसाव बंद किया जा सकेगा. रेलवे पुलिस ने टैंकर के आसपास का एरिया सील कर दिया है. इसके साथ ही दर्जन भर जवानों की ड्यूटी लगा दी गई है.

45 दिन से लॉक डाउन में फंसी है बरात, दुल्हन को लेकर घर नहीं लौट पा रहा दूल्हा

उज्जैन में सामने आए कोरोना के 19 नए मामले, मरीजों की संख्या हुई 220

छिंदवाड़ा में दो नर्सों पर हमला, मरीज ने बाल पकड़कर खींचे, मारा मुक्का

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -