बिहार चुनाव: नड्डा बोले- पहले नेता जातिवाद की बात करते थे, अब जनता को दिखाना होता है रिपोर्ट कार्ड

बिहार चुनाव: नड्डा बोले- पहले नेता जातिवाद की बात करते थे, अब जनता को दिखाना होता है रिपोर्ट कार्ड

बांका: भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने शुक्रवार को दावा करते हुए कहा कि पहले चुनावों में भाषणों में जातिवाद, लड़ाई-झगड़े को बढ़ावा देने और समाज को तोड़ने की कोशिशें की जाती थी, किन्तु पीएम मोदी के आने के बाद अब आवाम को अपने कार्यों का रिपोर्ट कार्ड दिखाना होता है.

दरअसल, जेपी नड्डा बिहार के बांका में एक चुनावी रैली को संबोधित कर रहे थे, इस दौरान उन्होंने कहा कि मोदी जी के आने के बाद देश की सियासी संस्कृति बदली है और अब लोगों को अपने काम का रिपोर्ट कार्ड दिखाना होता है. उन्होंने आगे कहा कि 2015 में मोदी ने बिहार के लिए एक लाख 25 हजार करोड़ रूपये के पैकेज का ऐलान किया था. जेपी नड्डा ने राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) को प्रचंड जनादेश देने का आग्रह करते हुए कहा कि, ''सजग समाज वही होता है, जो सजग नेता को पहचान लेता है, सजग नेता को शाबाशी देता है, अपना हित जानता है और अपने अहित से बचने के लिए तैयार रहता है.'' 

भागलपुर के सिल्क का महत्व बताते हुए उन्होंने युवाओं से मोदी के आह्वान पर 'वोकल फॉर लोकल' होने का आग्रह किया . उन्होंने कहा कि, ''भागलपुर के सिल्क की दुनियाभर में ब्रांडिंग करो, भारत सरकार और बिहार सरकार आपकी सहायता करेगी.'' उन्होंने दावा किया कि NDA सरकार में ही रेलवे, शिक्षा, स्वास्थ्य, रोड प्रत्येक क्षेत्र में बिहार का विकास हुआ है.

छह महीने की गिरावट के बाद सितंबर टेम्बर में भारत में बढ़ा 6% निर्यात

नवरात्री में कैसे करें कलश स्थापना, जानें शुभ मुहूर्त और चौघड़िया

अब घर से काम करने का तनाव होगा कम, जल्द शुरू होगी ये ख़ास सुविधा