भारत के तरकश में शामिल हुआ एक और धारदार हथियार, सफल रहा आकाश मिसाइल का परीक्षण

बालेश्वर: भारत ने बुधवार को आकाश मिसाइल के नये संस्करण (आकाश-एनजी) का ओडिशा तट से सफल परीक्षण कर लिया है. आधिकारिक सूत्रों ने जानकारी दी है कि बहुद्देशीय राडार, कमांड, कंट्रोल और संचार प्रणाली और लांचर आदि तमाम तरह की हथियार प्रणाली से लैस मिसाइल का परीक्षण दोपहर लगभग 12:45 बजे जमीनी मंच से किया गया.

हैदराबाद स्थित रक्षा अनुसंधान और विकास प्रयोगशाला (DRDL) ने रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (DRDO) की लैब्स के साथ मिलकर इस मिसाइल प्रणाली को डेवलप किया है. जमीन से हवा में मार करने की क्षमता से लैस इस मिसाइल का टेस्ट समेकित परीक्षण रेंज (ITR) से किया गया. सूत्रों ने बताया कि परीक्षण के दौरान मिसाइल ने तेज रफ़्तार वाले और संवेदनशील हवाई लक्ष्यों पर निशाना साधने से सम्बंधित क्षमता का अद्भुत प्रदर्शन किया.

सूत्रों ने बताया कि परीक्षण के दौरान मिसाइल की उड़ान से प्राप्त आंकड़ों के आधार पर सभी हथियार प्रणाली के सफल, बगैर किसी खामी के काम करने की पुष्टि हुई है. सेवा में आने के बाद आकाश-एनजी हथियार प्रणाली इंडियन एयरफोर्स के लिए बहुत महत्वपूर्ण और उसकी क्षमता को कई गुना बढ़ाने वाली साबित होगी.

50 प्रतिशत से अधिक एनआरआई ने यूपी सरकार को भेजे निवेश प्रस्ताव

नेहू कॉलेजों में यूजी पाठ्यक्रमों के छात्रों अब चुन सकेंगे ये खास सब्जेक्ट

कोरोना को 'फर्जी' बताने वाले दिल्ली के डॉक्टर के खिलाफ दर्ज हुआ केस, जाँच में जुटी क्राइम ब्रांच

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -