लोकसभा में प्रचंड जीत दर्ज करने के बाद अब 'मिशन महाराष्ट्र' में जुटी भजपा-शिवसेना

लोकसभा में प्रचंड जीत दर्ज करने के बाद अब 'मिशन महाराष्ट्र' में जुटी भजपा-शिवसेना

मुंबई: 2019 लोकसभा चुनाव के नतीजों से भाजपा-शिवसेना बेहद उत्साहित है और महाराष्ट्र में होने वाले आगामी विधानसभा चुनाव के लिए अभी से रणनीति बनाने की कवायद में लग गए हैं. सूत्रों का कहना है कि इस संदर्भ में शिवसेना-भाजपा के नेताओं की बैठक हुई है. लोकसभा चुनाव की तरह ही विधानसभा चुनाव में बेहतर तालमेल रहे. जिन कार्यकर्ताओं के बीच स्थानीय स्तर पर नाराजगी है उन्हें एक स्टेज पर लाने की कवायद चल रही है. हालांकि इस बैठक को अनौपचारिक बताया जा रहा है. 

लोकसभा चुनावों में दोनों दलों ने एक साथ मिलकर चुनाव लड़ा था और शानदार जीत दर्ज की थी. प्रदेश की 48 लोकसभा सीटों में से भाजपा ने 23 सीटों पर जीत दर्ज की थी जबकि शिवसेना ने 18 सीटों पर जीत दर्ज की थी, यानी कुल मिलाकर दोनों दलों को 41 सीटों पर जीत मिली थी. मत प्रतिशत की बात करें तो भाजपा को कुल 27.6 प्रतिशत वोट प्राप्त मिले थे, जबकि शिवसेना को 23.3 प्रतिशत वोट मिले थे. 

वहीं कांग्रेस तथा एआईएमआईएम और निर्दलीय प्रत्याशियों को एक सीट पर जीत मिली थी, जबकि राष्ट्रवादी कांग्रेस (एनसीपी) को चार सीटों पर जीत हासिल हुईं थी. 2014 विधानसभा चुनावों की बात करें तो महाराष्ट्र में भाजपा ने 122 सीटें हासिल की थी जबकि शिवसेना को केवल 63 सीटों से ही संतोष करना पड़ा था.

बिजली-पानी के दावों पर खुली केजरीवाल की पोल, साउथ दिल्ली में महिला ने पकड़ी शर्ट

मुझे मारना तो दूर, कोई घायल भी नहीं कर सकता - वरुण गाँधी

आयुष्मान योजना को लेकर आप सरकार और केंद्र में जंग तेज, अब हर्षवर्धन ने केजरीवाल को लिखा पत्र