क्या ओवैसी के इस बयान से सहमत होंगे देश के बाकी मुसलमान ?

पटना: बिहार के पटना में AIMIM चीफ और हैदराबाद से लोकसभा सांसद असदुद्दीन ओवैसी ने पीएम नरेंद्र मोदी और सीएम योगी आदित्यनाथ पर हमला बोला है। ओवैसी ने कहा कि सीएम योगी मंच से झूठ बोलते हैं, झूठ बोलना उनकी आदत में शामिल है। पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए ओवैसी ने कहा कि यदि पीएम मोदी में हिम्मत होती तो वह तालिबान को आतंकी संगठन घोषित कर चुके होते।

बता दें कि, सपा सांसद शफीकुर रहमान से लेकर जमीअत उलेमा ए हिन्द के मौलाना अरशद मदनी तक, तालिबान को आज़ादी की जंग लड़ने वाले बता रहे हैं। ऐसे में ओवैसी का ये बयान उनके लिए चुभने वाला हो सकता है। बहरहाल, पटना में ओवैसी ने सीएम योगी पर भी निशाना साधा, उन्होंने कहा कि, 'यूपी के स्कूलों में छात्रों का ड्रॉप आउट रेट 60 फीसद है। मुस्लिमों को सरकारी योजनाओं के तहत घर नहीं मिल रहा है। सीएम योगी झूठ बोलकर अपनी गिरती साख को बचा नहीं सकते हैं। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री गाय, भैंस और लड़कियों की तुलना कैसे कर सकते हैं? क्या यही महिलाओं का सम्मान है?

ओवैसी ने आगे कहा कि लाल कृष्ण आडवाणी ने भी पाकिस्तान में जिन्ना की प्रशंसा की थी। हम जिन्ना की टू नेशन थ्योरी को खारिज करते हैं। उन्होंने कहा कि हम 2013 से कहते आ रहे हैं कि नागरिकता संशोधन कानून (CAA) धर्म से परे होना चाहिए। ओवैसी बोले 'मैंने कहा था कि तालिबान लौटेगा। मेरा तालिबान से कोई वास्ता नहीं है। तालिबान को अबतक UAPA के तहत आतंकी संगठन घोषित क्यों नहीं किया गया। तालिबान के लौटने से पाकिस्तान और चीन को ताकत मिलेगी और मुझे लगता है कि आगे जाकर यह भारत के लिए खतरा होगा। ऐसे में सवाल यह उठ रहा है कि ओवैसी द्वारा तालिबान को आतंकी संगठन घोषित करने की मांग करने से क्या देश के बाकी मुस्लिम नेता सहमत होंगे।  

'कांग्रेस द्वारा स्पांसर है किसानों का प्रदर्शन, भाजपा के खिलाफ है पूरा आंदोलन..', पार्टी के MLA ने ही खोली पोल

'राम मंदिर का विरोध करने वाले अब श्रीराम की शरण में...', अयोध्या में AAP की तिरंगा यात्रा

'जो नफरत करे, वह योगी कैसा', राहुल गांधी ने सीएम योगी आदित्यनाथ पर कसा तंज

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -