भारत को गृहयुद्ध में धकेलना चाहती है भाजपा: RJD नेता

पटना: बृहस्पतिवार को RJD के उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने आरोप लगाया कि भाजपा 'धर्म संसद' जैसे आयोजनों के माध्यम से भारत को गृहयुद्ध में धकेलना चाहती है. तिवारी ने कहा, 'उत्तराखंड के हरिद्वार शहर में धर्म संसद का आयोजन किया गया, जहां कई चरमपंथी हिंदू संगठनों के नेताओं ने एक खास समुदाय के विरुद्ध भड़काऊ भाषण दिया तथा नरसंहार के लिए उकसाया.'

उन्होंने आगे बताया कि केंद्र एवं प्रदेश सरकार भारत में इस प्रकार के आयोजन की अनुमति क्यों दे रही है? चरमपंथी समूह खुलेआम नरसंहार के लिए भड़का रहे हैं. उनके कृत्यों का लक्ष्य देश को तोड़ना है. वे सिर्फ चुनाव जीतने तथा सरकार में रहने के लिए गृहयुद्ध भड़काना चाहते हैं. देश के पीएम एवं उत्तराखंड के सीएम क्या कर रहे हैं?

उन्होंने पंजाब में पीएम नरेंद्र मोदी की सुरक्षा में सेंध पर प्रश्न उठाया. तिवारी ने बताया, 'भारत के पीएम ने अपनी सुरक्षा में चूक के मसला बनाया है. एक ऐसी घटना, जिसमें किसान 1 किमी की दूरी पर बैठे थे. प्रधानमंत्री उस मामले पर टिप्पणी क्यों नहीं कर रहे हैं, जहां कई संगठनों के नेताओं ने व्यक्तियों को नरसंहार के लिए खुले रूप से उकसाया? यह नरेंद्र मोदी सरकार का दोहरा मापदंड है.' उन्होंने बताया कि लोकतंत्र में किसानों, विद्यार्थियों, बेरोजगार युवाओं, पीड़ितों को पीएम एवं सीएम के सामने विरोध प्रदर्शन करने का अधिकार है.  सभी जानते हैं कि भारत के किसान भाजपा सरकार से खफा हैं, विशेष रूप से पंजाब एवं हरियाणा में जहां वे अधिक आँकड़े में हैं. बीते वर्ष 3 कृषि कानूनों के खिलाफ संघर्ष के चलते 800 से ज्यादा किसानों की मौत हुई थी. 

यूपी चुनाव में पीएम मोदी ने खुद संभाला मोर्चा, टिकट बंटवारे पर बैठक में हुए शामिल

यूपी चुनाव: क्या अयोध्या में 'मोदी की काशी' जैसा करिश्मा कर पाएंगे योगी आदित्यनाथ ?

फर्म में निवेशकों को गुमराह करने के आरोप में इस कंपनी के संस्थापक को 26 सितंबर को होगी जेल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -