तीन समितियों की रिपोर्ट के बाद छत्तीसगढ़ सरकार करेगी शराबबंदी पर फैसला

रायपुर : प्रदेश सरकार ने राज्य में शराबबंदी के लिए तीन समितियों का गठन किया है। राज्य के वरिष्ठ अधिकारियों ने आज बताया कि राज्य में शराबबंदी के लिए तीन समितियों का गठन किया गया है। इनमें से एक समिति शराबबंदी वाले राज्यों का अध्ययन करेगी। दूसरी समिति सामाजिक संगठनों की है तथा तीसरी समिति में राज्य के प्रमुख दलों के विधायक हैं जो शराबबंदी की अनुशंसा करेंगे।

दूरदर्शन ने की 11 क्षेत्रीय चैनलों की शुरुआत, पीएम मोदी ने दी बधाई

ऐसे होगी प्रदेश में शराबबंदी 

सूत्रों से प्राप्त जानकारी के अनुसार अधिकारियों ने बताया कि राज्य शासन ने सचिव वाणिज्यिक कर (आबकारी) विभाग की अध्यक्षता में राज्य में पूर्ण शराबबंदी लागू करने के लिए समिति गठित की है। यह समिति ऐसे राज्य जहां पूर्व में शराबबंदी लागू की गई थी या वर्तमान में पूर्ण शराबबंदी लागू है, वहां शराबबंदी के कारण राज्य में आए आर्थिक, सामाजिक एवं व्यावहारिक परिवर्तनों का अध्ययन करेगी।

राजनीतिक दल प्रचार के लिए सेना के जवानों की फोटो का इस्तेमाल न करे - चुनाव आयोग

समिति करेगी शराबबंदी पर निर्णय 

जानकारी के लिए बता दें अधिकारियों ने बताया कि राज्य सरकार ने राज्य में पूर्ण शराबबंदी के संबंध में अनुशंसा करने के लिए सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों की समिति का गठन किया है। सचिव वाणिज्यिक कर यानि आबकारी के संयोजन में गठित इस समिति में विभिन्न सामाजिक संगठनों के प्रतिनिधियों को शामिल किया गया है। यह समिति राज्य में पूर्ण शराबबंदी के लिए अनुशंसा करेगी। राज्य सरकार ने रायपुर ग्रामीण क्षेत्र के विधायक की अध्यक्षता में शराबबंदी के लिए प्रमुख राजनीतिक दलों के विधायकों की समिति का भी गठन किया है। 

वाराणसी में पागल कुत्ते ने डेढ़ दर्जन से ज्यादा बच्चों को बनाया शिकार

लोकसभा चुनाव की तैयारियों को लेकर निर्वाचन आयोग की अहम बैठक आज

महिला दिवस के मौके पर पंजाब सरकार ने दिया यह ख़ास तोहफा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -