जेल से निकलकर बोले आजम खान के बेटे- 'मेरे पिता की जान को खतरा...'

लखनऊ: देश के सबसे बड़े राज्य यूपी में चुनाव से पहले सपा के नेता आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम को बड़ी राहत प्राप्त हुई है। लगभग 23 माह पश्चात् जेल से छूटने पर अब्दुल्ला आजम ने सरकार तथा प्रशासन पर खूब हमला बोला। अपने पिता के संसदीय क्षेत्र रामपुर पहुंचने के पश्चात् अब्दुल्ला आजम ने बताया कि इस बार चुनाव सरकार बनाम आवाम है, जेल में बेहद परेशानी मिली है।

वही सपा के सीनियर नेता आजम खान के बेटे और पूर्व MLA अब्दुल्ला आजम तकरीबन दो वर्ष पश्चात् सीतापुर जेल से छूटकर सबसे पहले रामपुर पहुंचे थे। वही रामपुर में अब्दुल्ला आजम ने बताया, "आज भी मेरे वालिद (पिता) आज़म खान की जान को संकट है। उनको कुछ हुआ तो सरकार एवं जेल प्रशासन इसका ज़िम्मेदार होगा।" आजम खान के बेटे ने इल्जाम लगाया कि मंडल में मौजूदा अफसरों के होते हुए निष्पक्ष चुनाव नहीं हो सकता इसलिए चुनाव आयोग को इसका संज्ञान लेना चाहिए।

वही अब्दुल्ला आज़म ने रामपुर पहुंचने के पश्चात् लोगों से कहा, जितना ज़ुल्म हो सकता था वो हुआ, आज भी मेरे वालिद (आज़म खान) की जान को संकट है। चित्रकूट जेल में क्या हुआ। उत्तर प्रदेश की शेष जेलों में क्या हो रहा है। अब्दुल्ला आज़म बोले, "ये चुनाव आवाम बनाम सरकार होगा। प्रदेश में कानून-व्यवस्था की स्थिति बहुत खराब है। रामपुर वालों हड्डियां तोड़ने तथा भैंस और बकरी चोरी में जेल भेजने के लिए ही पुलिस है। पुलिस इंस्पेक्टर सामूहिक दुष्कर्म रेप में पकड़े जाते हैं।" वही उत्तर प्रदेश की मौजूदा सरकार पर हमला बोलता हुए अब्दुल्ला आजम ने कहा, 8 बाई 8 के तन्हा बैरक में मेरे वालिद (आज़म खान) वक़्त काट रहे हैं। वो बेगुनाह हैं। उन्हें एक ऐसे मुकदमे में फंसाया गया है जिसमें 7 व्यक्ति एंटीसिपेटरी बेल पर बाहर हैं। एक अकेले आज़म खान साहब जेल में हैं।

यूपी चुनाव में पीएम मोदी ने खुद संभाला मोर्चा, टिकट बंटवारे पर बैठक में हुए शामिल

यूपी चुनाव: क्या अयोध्या में 'मोदी की काशी' जैसा करिश्मा कर पाएंगे योगी आदित्यनाथ ?

फर्म में निवेशकों को गुमराह करने के आरोप में इस कंपनी के संस्थापक को 26 सितंबर को होगी जेल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -