पत्नी के चुनाव प्रचार में छलका आजम खान का दर्द, कहा- मेरे माथे की बदनसीबी....

पत्नी के चुनाव प्रचार में छलका आजम खान का दर्द, कहा- मेरे माथे की बदनसीबी....

रामपुर: 21 अक्टूबर को यूपी की 11 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव के लिए मतदान होना हैं। रामपुर शहर की विधानसभा सीट भी इसमें शामिल है, जो आजम खान के सांसद चुने जाने के बाद खाली हुई है। इस सीट से समाजवादी पार्टी (सपा) ने आजम खान की पत्नी तंजीन फातिमा को प्रत्याशी बनाया है। चुनाव प्रचार की बागडौर आजम खान और उनके परिवार के हाथ में है। शनिवार को चुनावी रैली के दौरान सांसद आजम खान बेहद भावुक दिखाई दिए। 

कई मामलों में एसआईटी जांच का सामना कर रहे आजम खान ने लोगों से पूछा कि, 'मुझे इतना बता दो कि आखिर मेरी खता क्या है? केवल इतनी कि तुम्हारे बच्चों के हाथों में कलम दी।' आजम खान ने आगे कहा कि, 'मेरी आवाज को कमजोर मत पड़ने दो, मुझे थकने मत दो।' उन्होंने कहा कि आखिर में कब्र का नहीं, बल्कि इस धरती पर जो करोगे उसका हिसाब होगा।आजम खान ने कहा कि, 'मेरे माथे पर लिखी बदनसीबी को पढ़ने का प्रयास करो।

आजम खान ने कहा कि मैं पूरे हिंदुस्तान की आवाम से, बुद्धिजीवियों से, इंसाफ देने वालों से पूछना चाहता हूं कि मेरी खता क्या है? मुझे इंसाफ दो।' उन्होंने आगे कहा, 'मेरा गुनाह क्या है? इंसानियत और इंसान के लिए लड़ने वाला एक बेसहारा व्यक्ति जो आज से 45 वर्ष पूर्व तुम्हारे आंसू पोंछने के लिए आया था, जिसने तुम्हारे सूखे हो चुके जिस्मों में सांसे भरनी चाही थीं, जिसने तुम्हारी गुलामी की जंजीरें तोड़नी चाही थीं, उसकी सारी खुशियां छीन ली गईं।'

सीएम फडणवीस ने सुनी PMC बैंक के पीड़ितों की समस्या, कहा- पीएम मोदी से करूँगा चर्चा

CIC सम्मेलन में पहुंचे अमित शाह, कहा- लोकतंत्र की यात्रा में मील का पत्थर है RTI एक्ट

शरद पवार बोले, 80 साल का हो चुका हूँ, लेकिन एनर्जी लेवल अब भी 30 साल के युवा जैसा