कांग्रेस ने छोड़े थे 25 आतंकी, इन्ही में से एक ने किया था पठानकोट हमला - अरुण जेटली

नई दिल्ली: आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सरगना मौलाना मसूद अजहर को अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित किए जाने पर देश में सियासत तेज हो गई है. गुरुवार को केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने प्रेस वार्ता कर कांग्रेस सहित विपक्षी पार्टियों पर हमला बोला है. अरुण जेटली ने कहा है कि मसूद अजहर का अंतर्राष्ट्रीय आतंकी घोषित होना पीएम नरेंद्र मोदी की कूटनीति की बड़ी जीत है. 

जेटली ने कहा कि जब देश की जीत होती है तो प्रत्येक देशवासी की जीत होती है, किन्तु विपक्ष के नेताओं को लगता है कि अगर वे इसमें शामिल हुए तो उन्हें राजनीतिक नुकसान होगा. जेटली ने कहा है कि विपक्ष सर्जिकल स्ट्राइक पर कहता है कि जब हम सत्ता में थे, तो हमने भी सर्जिकल स्ट्राइक की थी. पुरानी परंपरा में विदेश नीति के संबंध में देश एक सुर में बोलता था, किन्तु आज ऐसा नहीं होता दिख रहा है. भारत ने जब सियासी दबाव बनाया, तब चीन ने अपने रुख में बदलाव किया.

कांग्रेस पर हमला बोलते हुए जेटली ने कहा कि 26/11 के हमले के बाद यूपीए सरकार का क्या रुख था, उसके बारे में हर किसी को पता है. उस हमल के बाद कांग्रेस ने 25 आतंकियों को छोड़ दिया था, उनमें से ही एक शाहिद लतीफ ने बाद में पठानकोट हमला किया था. उन्होंने कहा था कि भारत काफी समय से मसूद अजहर के निशाने पर था, कई आतंकी वारदातों में उसका हाथ था. जेटली ने बताया कि 2009 में यह प्रक्रिया आरंभ हुई थी, 2016-2017 में तकनीकी ऐतराज किए गए और भारत के प्रयास कामयाब नहीं हो पाए.

खबरें और भी:-

केरल में मुस्लिम संस्थानों में लागू हुआ ड्रेस कोड, स्कूल- कॉलेज में बैन हुआ बुर्का

जब सांप को हाथ में उठाकर खेलने लगीं प्रियंका गाँधी, वायरल हो रहा वीडियो

आज राजस्थान में चुनाव प्रचार करेंगे राहुल गाँधी, चोमू में करेंगे जनसभा

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -