पड़ोसी मुल्क से भारत में घुसी एक और जानलेवा बीमारी

भारत में इस समय कोरोना काल चल रहा है. लेकिन वायरस के प्रकोप के बीच एक और बुरी खबर सामने आई है. जिसमें कोरोना वायरस का दर्द और गहरा हो गया है. बता दे​ कि पूर्वोतर राज्य असम में अफ्रीकी स्वाइन फ्लू ने दस्तक दी है. यानी अब असम के सुअरों में अफ्रीकन स्वाइन फ्लू की पुष्टि हुई है. इस बीच राज्य मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने पशुपालन और पशु चिकित्सा मंत्री अतुल बौरा के साथ क्षेत्रीय उद्यमिता उद्यम प्रबंधन संस्थान और आईसीएआर-नेशनल रिसर्च सेंटर का दौरा किया. 

आई फॉर इंडिया कॉन्सर्ट में अर्जुन कपूर ने मांगी मदद, कहा- 'दान करो'

माना जा रहा है कि राज्य में फैले इस खतरनाक संक्रमण ने बहुत बुरे हालत पैदा कर दिए है. इस फ्लू की वजह से असम के 306 गांवों में अब तक 2 हजार 500 सूअरों की मौत हो चुकी है. लेकिन इस बीमारी का कोरोना से कोई नाता नहीं है. राज्य के पशुपालन व पशु चिकित्सा मंत्री अतुल बोरा ने कहा, 'केंद्र से अनुमति के बावजूद राज्य सरकार सूअरों को तुरंत मारने की बजाय इस अत्यधिक संक्रामक रोग के नियंत्रण के लिए दूसरे विकल्पों पर विचार करेगी.' 

शराब की दुकान के बाहर टूटी भीड़, भरना पड़ेगी भारी भरकम 'कोरोना फीस'

अपने बयान में बोरा ने बताया कि यह बीमारी अप्रैल 2019 में चीन के जियांग प्रांत के एक गांव में हुई थी जो अरुणाचल प्रदेश का सीमावर्ती है. असम में यह बीमारी इसी साल फरवरी के अंत में सामने आई थी. ऐसा लगता है कि यह बीमारी चीन से अरुणाचल होती हुई असम आई है.

अब जनु में होगा भगवद्गीता पर सेमीनार, इससे पहले दी गई थी रामायण की शिक्षा

Weather Forecast : इन स्थानों पर बेमौसम बरसात होने के आसार

इस राज्य में मिले एक ही दिन में 500 के पार कोरोना मरीज

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -