किसान रहे सतर्क, सरहदी इलाकों से भारत में घूस सकता है यह जीव

किसानों की फसल की कटाई का समय चल रहा है. वही, राजस्थान के सरहदी जिलों में टिड्डी आगमन के मद्देनज़र सभी संबंधित विभागों से प्रभावी कार्ययोजना के अनुरूप टिड्डी नियंत्रण गतिविधियों के क्रियान्वयन के निर्देश दिए हैं. कृषकाें से टिड्डी प्रकोप से भयभीत न होकर आगमन व पड़ाव की सही-सही सूचना स्थानीय लोक सेवक कार्मिक-अधिकारियों को देकर नियंत्रण में सहभागी बनने की अपील भी की गई है.इसके लिए नियंत्रण कक्ष स्थपित कर दूरभाष नम्बर भी जारी किए गए हैं. इसके अलावा किसानों की मदद के लिए कीटनाशी रसायनों के प्रयोग की विधि और औऱ उन्हें बनाने के तरीके भी जारी किए गए हैं.

विशेषज्ञों का दावा, संक्रमण के तीसरे दिन सूंघने की शक्ति खो सकता है कोरोना का मरीज

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि पाकिस्तान से सटे सरहदी जिले जैसलमेर में जिला कलेक्टर नमित मेहता ने इस बारे में सतत् निगरानी, सर्वेक्षण एवं नियंत्रण के लिए अलग अलग स्तरीय टीमें गठित की हैं. टिड्डियों पर प्रभावी नियत्रण के लिए अलग अलग जिलास्तर पर नियंत्रण कक्ष संचालित हैं. साथ ही कृषि विभाग से जारी नबंर भी उपलब्ध करवाए गए है.

WHO का बड़ा बयान, कहा- 'कोरोना के फैलने में वुहान मार्केट की रही भूमिका लेकिन...'

इसके अलावा उप निदेशक(कृषि, विस्तार) राधेश्याम नारवाल ने टिड्डी नियंत्रण के लिए किसानों को कीटनाशी रसायनों के प्रयोग की राय दी है.उनके अनुसार अभी रबी फसलों की कटाई एवं थे्रसिंग कर ली गई है परन्तु जिन क्षेत्रों में ज्वार, बाजरी आदि हरे चारे के लिये व सब्जी बेल आदि बोयी हुई है वहाँ टिड्डी दलों द्वारा होने वाले नुकसान से बचाने के लिए क्लोरपायरीफोस 20 ईसी 1200 एम एल प्रति हैक्टर, क्लोरपायरीफॉस 50 ईसी 480 एम एल प्रति हैक्टर, डेल्टामेथरिन 2.8 प्रतिशत ई.सी. 625 एम एल प्रति हैक्टेयर, बेन्डियोकार्ब 80 प्रतिशत डब्लू.पी.125 ग्राम प्रति हैक्टेयर,, मेलाथियॉन 50 प्रतिशत ई.सी. 1850 एम एल प्रति हैक्टेयर या मैलाथियॉन 25 प्रतिशत डब्लू.पी. 3700 ग्राम सुगमता से उपलब्धतानुसार कीटनाशक रसायन को 400 से 500 लीटर पानी में मिलाकर प्रति हैक्टर छिड़काव दो पारियों में टिड्डी प्रकोप के समय किया जाना चाहिए. 

सत्ताधारी पार्टी पर विपक्ष का बड़ा हमला, राष्ट्रपति को पत्र लिखकर दर्ज कराया विरोध

अमेरिका के उपराष्ट्रपति की प्रेस सचिव निकली कोरोना पॉजिटिव, व्हाइट हाउस में हड़कंप

लायल जेफ़ और वारेन जेफ़ के काले कारनामे, बिशप से कैसे पहुंचे जेल

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -