WHO का बड़ा बयान, कहा- 'कोरोना के फैलने में वुहान मार्केट की रही भूमिका लेकिन...'

जेनेवा: कई दिनों से लगातार बढ़ती जा रही कोरोना वायरस की समस्या से आज के समय में हर कोई परेशान है वहीं इस वायरस के बढ़ते प्रकोप और महामारी की चपेट में आने से आज न जाने ऐसे कितने लोग है जिनकी जाने जा चुकी है, इतना ही नहीं इस वायरस की चपेट में आने कर रोज लाखों की तादाद में लोग संक्रमित हो रहे है, वहीं कोरोना वायरस से दुनियाभर में मौत का आंकड़ा लगातार बढ़ता ही जा रहा है जिसके कारण आज पूरा मानवीय पहलू तबाही की छोर  पर आ खड़ा हुआ है. आज इस वायरस की चपेट में आने से 2 लाख 76 हजार से अधिक लोगों की जान जा चुकी है. और अब भी इस बात को खुलकर नहीं कहा जा सकता है कि इस वायरस से कब तक निजात मिल पाएगा और हालात ने कब सुधार होगा. 

वहीं विश्व स्वास्थ्य संगठन (World Health Organization यानी WHO) ने कहा है कि चीन के शहर वुहान में स्थित थोक पशु बाजार की कोरोना के प्रसार में भूमिका रही है. यह भूमिका या तो वायरस के स्त्रोत के रूप में रही है या फिर इसने वायरस के प्रसार को बढ़ाने का काम किया. डब्ल्यूएचओ ने हालांकि इस बारे में और अधिक शोध-अध्ययन की जरूरत पर जोर दिया है. चीन के अधिकारियों ने जनवरी में इस बाजार को बंद करा दिया था, जिससे वन्य और समुद्री जीवों की खपत तथा व्यापार में अस्थायी रोक लग गई थी.

खाद्य सुरक्षा से जुड़े डब्ल्यूएचओ के एक विशेषज्ञ डा. पीटर बेन एमबारेक ने कहा कि यह साफ है कि इस बाजार के कारण वायरस का प्रकोप बढ़ा, लेकिन यह भूमिका किस तरह की थी, इस पर और अधिक रोशनी पड़नी चाहिए. कोरोना का वायरस कैसे आया और इतना गंभीर हो गया, इसको लेकर चीन और अमेरिका के बीच तलवारें खिंची हुई हैं. अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और विदेश मंत्री माइक पोंपियो ने इसके लिए साफ तौर पर चीन को उत्तरदायी ठहराया है. पोंपियो ने तो यहां तक कहा है कि उनके पास इस वायरस के लैब में बने होने के प्रमाण हैं. बेन एमबारेक ने हालांकि इन आरोपों पर कुछ नहीं कहा है. उन्होंने कहा कि यह जानने में एक वर्ष का समय लग गया था कि एमईआरएस (मिडिल ईस्ट रेसिपिरेटरी सिंड्रोम) का स्त्रोत ऊंट है. कोरोना के मामले में अभी भी देर नहीं हुई है. हमारे लिए अभी सबसे अधिक जरूरी इस वायरस का प्रसार रोकना है.

कुछ इस तरह शुरू हुई थी एलिसा हीली और उनके पति की प्रेम गाथा

कोरोना संकट के बीच सीरिया में लॉक डाउन में मिली ढील, दी गई इस बात की अनुमति

कोरोना संकट के बीच सीरिया में लॉक डाउन में मिली ढील, दी गई इस बात की अनुमति

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -