लेटे हनुमान की प्रतिमा ने हर भक्त को किया आत्मविभोर, इस स्थान पर होगी प्रतिष्ठापित

प्रयागराज : शुक्रवार को राजस्थान के भीलवाड़ा से लाई गई 64 टन की लेटे हनुमान की प्रतिमा का  वैदिक मंत्रोच्चार से सविधि पूजन किया गया. इस विशाल प्रतिमा ने हर किसी के रोंगटे खड़े कर दिए है. लेटे हनुमान के महंत और अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि महाराज ने जलाभिषेक किया. लेटे हनुमान की पूजा के बाद आरती उतारी. इस दौरान गगनभेदी जयकारे गूंजते रहे.

कटरीना कैफ ने खोला अपने फिट रहने का राज़

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि लेटे हनुमान की विशालकाय प्रतिमा राजस्थान के भीलवाड़ा से 20 दिन बाद 2100 किमी दूसरी तय कर बृहस्पतिवार को यहां पहुंची. प्रतिमा लेकर यहां पहुंचने पर संतों-भक्तों ने भव्य स्वागत किया. लेटे हनुमान की विशालकाय मूर्ति के दर्शन के लिए रास्ते भर श्रद्धालुओं की भीड़ लगी रही. को देखने के लिए रास्तों में छोटे-छोटे समूह द्वारा पूजा अर्चना की गई श्रद्धालुओं की भीड़ विशालकाय मूर्ति को देखने के लिए प्रतीक्षा में खड़े रहे.

पंजाब बजट सत्र 2020 : अमरिंदर सिंह सरकार ने गांवों और शहरों को दिल खोलकर दी सौगाते

संगम स्थान में बड़े हनुमान मंदिर परिसर के सामने भीलवाड़ा से लाई गई लेटे हनुमान की इस प्रतिमा की पूजा महंत नरेंद्र गिरि ने की. अब भीलवाड़ा पहुंचने के बाद वहां लेटे हनुमान केभव्य मंदिर की स्थापना होगी और उस मंदिर के गर्भ गृह में इस प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा की जाएगी. इस मौके पर भीलवाड़ा के महंत बाबू गिरी महाराज ने बताया कि इस प्रतिमा को भीलवाड़ा में बनने वाले मंदिर में प्रतिष्ठापित किया जाएगा. इस मौके पर सैकड़ों संत व भक्त उपस्थित थे.

अब सड़क हादसे के घायलों को मिलेगा मुफ्त उपचार, ये है सरकार की योजना

अयोध्या पहुंचे नृपेंद्र मिश्र, बैठक में इन बातों पर हो सकती है चर्चा

नीना गुप्ता ने शेयर की अपनी पुरानी तस्वीरें

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -