यहां पर 5.5 तीव्रता के साथ लगे भूकंप के झटके

सोमवार रात को रिक्टर स्केल पर 5.5 की तीव्रता वाले भूकंप से मणिपुर और पूर्वोत्तर भारत के कुछ हिस्सों में झटके महसूस किए गए. नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी (NCS) के अनुसार, भूकंप का केंद्र मोइरांग से 15 किलोमीटर पश्चिम में रहा. गुवाहाटी और असम के अन्य हिस्सों में भी झटके महसूस किए गए.

मध्य प्रदेश उपचुनाव: 'चंबल एक्सप्रेस वे' को मुद्दा बनाएगी भाजपा ! 16 सीटों पर पड़ेगा सीधा असर

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि हाल ही में कुछ दिन पहले भी उत्‍तर-पूर्वी राज्‍य मणिपुर में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. उस दौरान नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के अनुसार, मणिपुर के पूर्व उखरुल के 43 किमी में सुबह रिक्टर स्केल पर 3.6 की तीव्रता पर भूकंप आया. भूकंप ऐसे समय पर आया, जब लोग गहरी नींद में थे. इसके बावजूद जब कंपन्‍न महसूस हुआ, तो काफी लोग घरों से बाहर निकल आए. भूकंप से किसी तरह के जानमाल के नुकसान की जानकारी नहीं मिली थी.

पूर्वोत्तर भारत में कांपी धरती, मणिपुर में स्थित था भूकंप का केंद्र

अगर आपको नही पता तो बता दे कि धरती मुख्य तौर पर चार परतों से बनी हुई है, इनर कोर, आउटर कोर, मैनटल और क्रस्ट. क्रस्ट और ऊपरी मैन्टल को लिथोस्फेयर कहते हैं. ये 50 किलोमीटर की मोटी परत, वर्गों में बंटी हुई है, जिन्हें टैकटोनिक प्लेट्स कहा जाता है. ये टैकटोनिक प्लेट्स अपनी जगह से हिलती रहती हैं लेकिन जब ये बहुत ज्यादा हिल जाती हैं, तो भूकंप आ जाता है. ये प्लेट्स क्षैतिज और ऊर्ध्वाधर, दोनों ही तरह से अपनी जगह से हिल सकती हैं. इसके बाद वे अपनी जगह तलाशती हैं और ऐसे में एक प्लेट दूसरी के नीचे आ जाती है.

लॉकडाउन की शर्तो में छूट पड़ी भारी, तेजी से बढ़ रहा संक्रमण

कांग्रेस नेता अलका लाम्बा पर FIR दर्ज, ट्विटर पर ट्रेंड कर रहा #arrestalkalamba

बंगाल में अम्फान से जनजीवन अस्त-व्यस्त, चार दिन से बिजली-पानी को तरस रहे लोग

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -