सावधान: देश में दस्तक दे चुका है घातक 'नोरोवायरस..', इस राज्य में सामने आए मरीज

तिरुवनंतपुरम: केरल में कोरोना वायरस के मामलों के बीच अब एक और घातक वायरस की एंट्री हुई है। इस वायरस का का नाम नोरोवायरस (Noro Virus) बताया जा रहा है। केरल सरकार के अनुसार, इस वायरस के संक्रमण को इलाज से जल्द ही ठीक किया जा सकता है। वायनाड जिले में नोरो वायरस मामलों की पुष्टि होने के एक दिन बाद शुक्रवार को राज्य सरकार ने कहा कि लोगों को इस संक्रामक वायरस के खिलाफ सजग रहने की आवश्यकता है। बताया जाता है कि इसके संक्रमण से पीड़ित व्यक्ति को उल्टी और दस्त की समस्या होती है।

स्वास्थ्य मंत्री वीना जॉर्ज ने कहा कि उचित रोकथाम और इलाज से इस बीमारी को शीघ्र ठीक किया जा सकता है। उन्होंने बताया कि इससे डरने की आवश्यकता नहीं है, बल्कि इस बीमारी और इससे बचाव के उपायों के बारे में सबको मालूम होना चाहिए। उन्होंने बताया कि नोरोवायरस, वायरस का एक समूह है, जो गैस्ट्रोइंटेस्टाइनल बीमारी (पेट संबंधी बीमारी) की वजह बनता है। हालांकि नोरोवायरस स्वस्थ लोगों को बहुत अधिक प्रभावित नहीं करता है, किन्तु यह छोटे बच्चों, बुजुर्गों और किसी अन्य रोग से पीड़ित लोगों के मामले में गंभीर हो सकता है।

बता दें कि दो हफ्ते पूर्व वायनाड जिले के विथिरी के पास पुकोडे में एक पशु चिकित्सा महाविद्यालय के करीब 13 छात्रों में इस दुर्लभ नोरोवायरस संक्रमण की पुष्टि हुई थी। फिलहाल स्थिति नियं‍त्रण में है और आगे प्रसार की सूचना नहीं है।

इज़राइल सरकार ने नए कोविड वैरिएंट से निपटने के लिए राष्ट्रीय ड्रिल आयोजित की

दक्षिण कोरिया ने ईंधन के दाम कम किये

दिल्ली-राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में स्मॉग की परत

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -