500+ एनकाउंटर, 284 करोड़ की संपत्ति जब्त.., योगी सरकार 2.0 के 100 दिनों का रिपोर्ट कार्ड

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में CM योगी आदित्यनाथ की सरकार मार्च 2017 में पहली बार सत्ता में आई थी। 2017 से 2022 तक पांच साल के कार्यकाल में सरकार द्वारा दावा किया गया था कि उसने इस कार्यकाल में बेहतर कानून-व्यवस्था और अपराधियों पर लगाम लगाने के अपने एजेंडे को पूरा किया। अपराधियों की गोली का जवाब गोली से देने की छूट हो या फिर अपराधियों की अवैध संपत्ति को बुलडोजर से जमींदोज़ करना हो। इस उपलब्धि को राज्य सरकार ने इस साल के फरवरी-मार्च में हुए विधानसभा चुनाव में जनता के समक्ष रख वोट माँगा। नतीजा ये हुआ कि मार्च 2022 में योगी आदित्यनाथ दूसरी बार यूपी के मुख्यमंत्री बने। अब सरकार अपने दूसरे कार्यकाल के भी 100 दिन पूरे हो रहे हैं। इन 100 दिनों में योगी सरकार ने कानून व्यवस्था और अपराध नियंत्रण के लिए क्या कोशिशें की हैं, इस संबंध में अहम जानकारी सामने आई है।

योगी सरकार के दूसरे कार्यकाल में उत्तर प्रदेश पुलिस ने माफिया के चिन्हिकरण का काम तेज कर दिया है। प्रदेश स्तर के 50 चिन्हित माफिया के साथ ही DGP हेडक्वार्टर ने भी 12 माफिया को चिन्हित किया और उनके विरुद्ध कार्रवाई का दौर शुरू किया गया। गैंगस्टर एक्ट के तहत 25 मार्च 2022 से जून 2022 के बीच कुल 192 करोड़ 40 लाख 34 हजार 582 रुपये की संपत्ति जब्त की गई है। प्रदेश स्तर के 50 माफियाओं के अतिरिक्त, मुख्यालय स्तर पर भी 12 गैंगस्टर की 92 करोड, 18 लाख, 96 हजार, 700 रुपये की संपत्ति जब्त की गई है। इस तरह राज्य में चिन्हित कुल 62 माफिया की अब तक 284 करोड़, 59 लाख, 31 हजार 282 रुपये की संपत्ति जब्त हो चुकी है।

बता दें कि, योगी सरकार के दूसरे कार्यकाल में यूपी पुलिस ने 525 एनकाउंटर किए हैं, हालाँकि, इनमे से 5 अपराधियों की ही मौत हुई है, वहीं 425 अपराधी, पुलिस मुठभेड़ में घायल होकर गिरफ्तार हुए हैं। अपराधियों से लोहा लेने के दौरान अपना कर्त्तव्य निभाते हुए 68 पुलिस के जवान भी घायल हुए हैं। 

BJP राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में हैदराबाद को भाग्यनगर बोल गए PM मोदी, जानिए और क्या कहा?

उदयपुर हत्याकांड: कन्हैया के कातिलों को भीड़ ने भरी कोर्ट में पीटा, देखें Video

दूधवाले को दिल दे बैठी ग्रेजुएट युवती, दिलचस्प है कहानी

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -