फिर शर्मसार हुई यूपी पुलिस, युवती ने लगाए सामूहिक दुष्कर्म के आरोप

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले में नौकरी दिलाने के बहाने एक युवती से सामूहिक दुष्कर्म किए जाने का मामला प्रकाश में आया है। युवती ने दुष्कर्म का ये आरोप जेल में तैनात तीन सिपाहियों पर लगाया है। युवती के अनुसार, सिपाहियों ने उसे नशीली कोल्डड्रिंक पिलाकर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया है। इस मामले में पीड़िता ने प्रदेश के सीएम योगी आदित्यनाथ, डीजीपी ओपी सिंह सहित आला अधिकारियों से इन्साफ की गुहार लगाई है।

चोरों को रास नहीं आया कुछ माह पहले लगा एटीएम, दिया ऐसी घटना को अंजाम

मिली जानकारी के अनुसार, सिविल लाइन थाना इलाके की रहने वाली पीड़िता ने सीएम योगी आदित्यनाथ को लिखे पत्र में बताया है कि उनका दूर का एक रिश्तेदार बागपत जेल में सिपाही के पद पर है। अक्सर वो अपने दो साथियों के साथ उसके घर आया करता था। पीड़िता के अनुसार, एक दिन उसने मेरठ या मुजफ्फरनगर की जेल में महिला सिपाही की नौकरी लगवाने का वादा किया। इसके लिए 10 लाख रुपए का खर्च आने की बात भी कही। रिश्तेदार होने की वजह से परिवार को उस सिपाही पर विश्वास हो गया। परिवार ने आरोपी को 8 लाख रुपए दे दिए।

एक ही दिन में दो हत्याओं से थर्राया मुजफ्फरपुर, लोगों में आक्रोश

इसके बाद शैक्षिक दस्तावेज लेकर सिपाही ने 10 महीने के भीतर नौकरी दिलाने का आश्वासन दिया। पीड़िता ने बताया है कि बीती 26 जनवरी को सिपाही अपने दोनों सिपाहियों के साथ एक बार फिर उनके घर आया। सिपाही ने कहा कि सारी सेटिंग जम चुकी है। कारागार मंत्री से डीआईजी जेल को नौकरी के बारे में फोन करवा दिया गया है। जिसके बाद आरोपी युवती को अपने साथ लेकर गया और नशीली कोल्ड्रिंक पिलाकर उसके साथ दुष्कर्म किया।

खबरें और भी:-

बंदर को देख सहम गया युवक, फिर हुआ कुछ ऐसा

दहेज के लिए ससुराल वालों ने पार की निर्दयता की सारी हदे

रोज की तरह खेत पर गया था किसान, फिर इस हालत में लौटा

Most Popular

- Sponsored Advert -