टीवी सेलेब्स ने इस तरह महाशिवरात्रि पर शेयर की अपनी फीलिंग्स

आप सभी जानते ही हैं कि आज यानी सोमवार को पूरे देशभर में महाशिवरात्रि का पर्व मनाया जा रहा है. ऐसे में देशभर के शिव मंदिरों में भगवान शंकर के भक्त सुबह से ही दर्शन और पूजा के लिए कतार में लगे हुए हैं.वहीं इस मौके पर मशहूर टीवी कलाकारों ने भी अपनी फीलिंग शेयर की हैं. जो आज हम आपको बताने जा रहे हैं. आइए जानते हैं.

शुभांगी आत्रे: ''भगवान शिव मुझे बहुत प्रेरित करते हैं. मैं उन्हें इसलिए मानती हूं क्योंकि वो बुराई का अंत करने वाले हैं. शिव अन्याय को सहन नहीं करते, इसी तरह हमें भी अपने आस पास हो रही बुराइयों के खिलाफ जीरो टॉलरेंस रखना चाहिए, हमें अन्याय के खिलाफ आवाज उठानी चाहिए.

हेली शाह: एक अनियंत्रित मन आपको विनाशकारी जीवन जीने के लिए प्रेरित कर सकता है. जब आप फोकस खो देते हैं और अपनी इच्छाओं और व्यसनों के शिकार हो जाते हैं तो आप अपने लक्ष्य को नहीं जीत सकते. इसलिए, अपने दिमाग को अपने लक्ष्यों और दिल से भी जोड़कर रखना आवश्यक है. भगवान शिव ध्यान के देवता हैं. मुझे लगता है कि वह मुझे ध्यान केंद्रित करने के लिए प्रेरित करते हैं. मैं शिव की बहुत बड़ी भक्त हूं.''

तान्या शर्मा: ''एक बार भगवान शिव के वस्त्रों पर नजर डालिए, वह हमेशा विलासिता से दूर रहते हैं. यदि आप धन और भौतिकवादी चीजों से नहीं जुड़े हैं, तो आप जीवन में कुछ भी नहीं कर रहे हैं. यदि आप धन और भौतिकवादी चीजों से जुड़े हैं, तो आप जीवन में कुछ भी नहीं कर रहे हैं, क्योंकि भौतिकवादी खुशी पर्मानेंट नहीं है. आपको घटनाओं और अनुभवों में अपनी खुशी खोजने की जरूरत है, न कि भौतिकवादी चीजों में. भगवान शिव यह बात साफ तरीके समझाते हैं कि भौतिकवादी खुशी कभी भी लंबे समय तक नहीं रहती है.''

माहिका शर्मा: ''शिव हमें सिखाते हैं कि हमारा अहंकार ही सिर्फ ऐसी चीज है जो हमें महानता प्राप्त करने से रोकता है. यह आपका अहंकार है जो आपके लक्ष्यों और सपनों के बीच आता है और आपको कम प्यार करने वाला बनाता है. उन्होंने कभी अपने अहंकार को खुद से बेहतर नहीं होने दिया. दूसरी ओर, न ही उसने किसी और के अहंकार को सहन किया.''

जेबी सिंह: ''भगवान शिव ने मुझे हमेशा शांत रहने और आगे बढ़ने के लिए प्रेरित किया. शिव को योग महा योगी ’कहा जाता है क्योंकि उन्होंने ब्रह्मांड की भलाई के लिए घंटों ध्यान लगाया. उनका मन तभी अशांत हुआ जब कोई बहुत बड़ा संकट आया, इसके अलावा वे हमेशा शांत मन के साथ रहते हैं.''

रूपा दुर्गापाल: ''मैं भगवान शिव की बहुत बड़ी भक्त हूं, उनके पास बहुत कुछ ऐसा है जिससे आप प्रेरणा ले सकते हैं. उनकी तीसरी आंख इस बात का प्रतीक है कि हमें तब तक किसी बात पर विश्वास नहीं करना चाहिए जब तक हम उसे अपनी मन की आंखों से नहीं देख लेते. इसी तरह, उनका त्रिशूल हमारे अहंकार, मन और बौद्धिक आत्म को नियंत्रित करने का प्रतीक है.''

Video : अपने मिल्कशेक से यह गंदा काम करती नजर आईं पूनम पांडेय

इस एक्ट्रेस ने रवि कपूर को दी ऐसी सलाह कि सुनकर हंस पड़ी मॉम एकता कपूर

शादी के बाद इतनी बदल गई कोमोलिका, सामने आया नया लुक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -