झारखंड में इस स्थान पर पहुंचा कोटा में फंसे छात्रों का पहला बैच

देशव्यापी लॉकडाउन के कारण विभिन्न राज्यों में फंसे छात्रों और मजदूरों को उनके गृह राज्य पहुंचाने के लिए सरकार ने बसों और स्पेशल ट्रेनों का इंतजाम किया गया है. इसी के साथ राजस्थान के कोटा में फंसे छात्रों का पहला बैच झारखंड़ पहुंच गया है. ये छात्र शनिवार शाम हटिया रेलवे स्टेशन पर पहुंचे.

बीते शनिवार को हुई 10 लाख से ज्यादा जांच, जल्द काबू हो सकता है कोरोना संक्रमण

शुक्रवार को झारखंड के मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा था कि कोटा से झारखंड के छात्रों का पहला जत्था रांची के लिए रवाना हो गया है और केंद्र सरकार और राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को उनकी सहायता के लिए धन्यवाद दिया था.

कोरोना : पूजा-नमाज को लेकर सीएम योगी ने बोली चौकाने वाली बात

इसके अलावा सोशल मीडिया पर हेमंत सोरेन ने हिंदी में लिखा था, "कोटा में झारखंड के छात्रों का पहला जत्था रांची के लिए रवाना हो गया है. मैं केंद्र सरकार, अशोक गहलोत जी और राजस्थान सरकार के पदाधिकारियों को उनकी सहायता के लिए धन्यवाद देता हूं. कल धनबाद के लिए एक और ट्रेन की शुरुआत होगी. इसके बाद गृह मंत्रालय (एमएचए) ने प्रवासियों मजदूरों, श्रमिकों, छात्रों, पर्यटकों सहित फंसे हुए लोगों की आवाजाही के लिए अनुमति प्रदान की, और उसी के लिए प्रक्रिया प्रदान की. 

उत्तरप्रदेश के इन इलाकों में बढ़ रहा कोरोना का संक्रमण, रोजाना मिल रहे नए मरीज

यूपी में बढ़ा कोरोना का खौफ फिर सामने आए 100 से अधिक मामले

राजस्थान में लॉकडाउन और कोरोना नियम तोड़ने वालों को मिलेगा सख्त दंड, जानें पूरी डिटेल्स

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -