पिता का इंतज़ार कर रही बच्ची का शिक्षक ने किया अपहरण, रात भर किया दुष्कर्म

पिता का इंतज़ार कर रही बच्ची का शिक्षक ने किया अपहरण, रात भर किया दुष्कर्म

सुपौल: एक ओर जहां पूरा देश हैदराबाद और उन्नाव में हुए बलात्कार की वारदात को लेकर आक्रोश में है। वहीं दूसरी ओर बिहार में रेप की वारदातों की सूची लगातार बढ़ती जा रही है। बिहार के बक्सर और समस्तीपुर में हुए जघन्य अपराध के बाद अब बिहार के सुपौल जिले में अपराधियों ने दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया है।

सुपौल जिले में अपने घर के पास पिता की प्रतीक्षा कर रही एक नाबालिग लड़की का अपहरण कर एक शिक्षक ने पूरी रात उसके साथ बलात्कार किया। वारदात को लेकर पीड़ित बच्ची ने निर्मली थाना में 6 दिसंबर की रात में लिखित अर्जी दी है। उसने बताया है कि 5 दिसंबर की रात को तक़रीबन 9 बजे पीड़िता अपने घर के पास पिता की प्रतीक्षा कर रही थी। इसी दौरान बाइक पर सवार वहां शिक्षक समेत दो लोग आए और उसे जबरदस्ती बाइक पर बैठाकर पुरानी रजिस्ट्री कार्यालय के पास एक कमरे में ले गए, जहां उसके साथ उन्होंने रात भर बलात्कार किया।

नाबालिग लड़की ने यह भी इल्जाम लगाया है कि जब उसने इसका विरोध किया तो शिक्षक ने उसके साथ मारपीट भी की। इस दौरान उसकी दायीं आंख का निचला भाग जख्मी हो गया है। नाबालिग ने इल्जाम लगाया है कि वारदात के बाद युवकों ने पीड़िता को जान से मारने की धमकी भी दी। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

बिहार में पांच साल की मासूम के साथ हैवानियत, ऑटो ड्राइवर ने सुनसान स्थान पर ले जाकर किया दुष्कर्म

पत्नी की बीमारी से तंग आ गया था पति, जिन्दा ही कर दिया दफ़न

उन्नाव के बाद अब बुलंदशहर में हैवानियत, नाबालिग को बंधक बनाकर सामूहिक दुष्कर्म