वो आत्मघाती बेल्ट, जिसको पहनकर फट जाते हैं इस्लामी आतंकी, तालिबान ने TV पर दिखाए अपने हथियार

काबुल: अफगानिस्तान में शासन मिलते ही आतंकी संगठन तालिबान, विश्व को अपनी ताकत दिखाने के लिए बेताब नज़र आ रहा है। अपने गढ़ कंधार की सड़कों पर ‘विक्ट्री लैप’ के दौरान ब्लैकहॉक हेलीकॉप्टरों की नुमाइश के बाद उसने सैन्य ताकत दिखाने हेतु एक और परेड का आयोजन किया है। बुधवार (1 सितंबर 2021) को तालिबान ने अमेरिका समर्थित अफगानिस्तान की राष्ट्रीय सरकार के पतन के बाद लूटे गए हथियारों की नुमाइश करने के लिए विजय परेड का आयोजन किया था। इस दौरान उसने अपने आत्मघाती बेल्ट, कार बम, बैरल बम व अन्य विस्फोटकों समेत कई हथियारों को दुनिया के सामने रखा। अफगानिस्तान के सरकारी चैनल रेडियो टेलीविजन अफगानिस्तान (RTA) पर इसका टेलीकास्ट किया गया।

 

परेड के दौरान आतंकी संगठन तालिबान ने हल्के हथियार, भारी हथियार, पीले बैरल और कार बम की भी नुमाइश की। तालिबान के प्रवक्ता सुहैल शाहीन ने कहा है कि इन हथियारों का उपयोग अपनी आजादी और देश के खतरों से निपटने के लिए किया जाएगा। ईरानी पत्रकार तजुदेन सोरौश द्वारा शेयर किए गए एक अन्य वीडियो में तालिबान लड़ाके अपने कराटे कौशल से तालिबान के बुजुर्ग मुजाहिदीन नेताओं को प्रभावित करते देखे गए। तालिबान जिन हथियारों का प्रदर्शन कर रहा है, वे अफगानी सुरक्षाबलों से लूटे गए थे। अफगान सरकार के पतन के बाद ज्यादातर सैनिकों ने या तो सरेंडर कर दिया था या फिर वे जान बचाकर भाग गए थे। इसके बाद उनके हथियारों को तालिबान ने हड़प लिया था।

 

बता दें कि 31 अगस्त को जब अमेरिका ने काबुल छोड़ा था, तो उसने तक़रीबन 80 बिलियन डॉलर (58,45,56,00,00,00 रपए) का सामान यहाँ छोड़ दिया था। इसके साथ ही अमेरिका ने वर्ष 2003 से अफगान बलों को 16,000 से ज्यादा नाइट-विज़न गॉगल डिवाइस, 600,000 थलसेना के हथियार, जिनमें M16 असॉल्ट राइफल और 162,000 संचार उपकरण दिए थे।

पुलिस ने जब्त कर ली 5 करोड़ की लैम्बोर्गिनी.., रोते-रोते घर गया कार मालिक

इजरायल सरकार ने प्रारंभिक मतदान में राज्य के बजट को दी मंजूरी

अल्बानियाई प्रधान मंत्री ने अल्बानिया की पहली महिला कैबिनेट की नियुक्ति की

 

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -