विधायक की जूतों से पिटाई करने के बाद सांसद ने कहा- 'खेद है....'

उत्तर प्रदेश के संतकबीर जिले में बुधवार शाम सांसद और विधायक के बीच झगड़ा हो गया. यह झगड़ा इतना ज्यादा बढ़ गया कि सांसद ने अपनी ही पार्टी के विधायक पर जूतों की बारिश कर दी. प्रभारी मंत्री आशुतोष टंडन उर्फ गोपाल जी की अध्यक्षता में चल रही योजना समिति की बैठक के दौरान भाजपा सांसद और विधायक के बीच यह मारपीट हुई थी. सूत्रों की माने तो सांसद शरद त्रिपाठी व भाजपा के ही विधायक राकेश सिंह बघेल के बीच पहले बहस और और फिर दोनों में जमकर जूतमपैजार हुई. इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है.

बताया जा रहा है कि संत कबीरनगर से बीजेपी सांसद त्रिपाठी और मेंहदावल से बीजेपी विधायक बघेल के बीच सड़क निर्माण का श्रेय लेने को लेकर कहासुनी हो गई और फिर यह मामला सिर्फ कहासुनी तक ही सीमित नहीं रहा बल्कि इसके बाद दोनों ही भीड़ गए गए और एक-दूसरे को मारने के लिए जूता तक निकाल लिया. जब झगड़ा ज्यादा बढ़ गया तो प्रशासनिक एवं पुलिस अधिकारियों ने किसी तरह बीच बचाव कर मामला शांत कराया.

इस घटना के बाद पूरे मसले पर सांसद शरद त्रिपाठी की प्रतिक्रिया सामने आई है. सांसद त्रिपाठी ने इस बारे में कहा कि, "घटना के लिए खेद है और मुझे बुरा लग रहा है. जो कुछ भी हुआ, वह मेरे सामान्य व्यवहार से अलग था. मुझे पार्टी प्रदेशाध्यक्ष ने मेरा पक्ष रखने के लिए बुलाया है." दरअसल मेंहदावल क्षेत्र में सड़क निर्माण की शिला पटिटका से सांसद का नाम गायब था और इस वजह से वह भड़क गए और फिर बवाल हो गया.

Video : अपनी ही पार्टी के विधायक की सांसद ने कर दी जूतों से पिटाई

खुद के जाल में फंसी भाजपा, दिग्विजय ही नहीं केशव प्रसाद भी बता चुके हैं पुलवामा हमले को दुर्घटना

भारत-पाक सीमा पर पहुंचे गहलोत, कहा-1965-1971 के युद्ध की तरह ही देंगे सेना का साथ

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -