जल्द ही 400 रेलवे स्टेशनों पर मिलेगी कुल्हड़ वाली चाय, मिट्टी के बर्तनों में मिलेगी खाद्य सामग्री

Sep 13 2019 10:37 AM
जल्द ही 400 रेलवे स्टेशनों पर मिलेगी कुल्हड़ वाली चाय, मिट्टी के बर्तनों में मिलेगी खाद्य सामग्री

नई दिल्ली : रेल से यात्रा करने वाले मुसाफिरों को जल्दी ही 400 रेलवे स्टेशनों पर चाय, लस्सी और खाने- पीने का सामान मिट्टी से बने कुल्हड़, गिलास और दूसरे बर्तनों में मिलेगा. खादी और ग्रामोद्योग आयोग (केवीआईसी) ने कहा कि रेलवे मंत्रालय ने 400 रेलवे स्टेशनों पर यात्रियों को खाने-पीने का सामान मिट्टी से बने बर्तनों में उपलब्ध कराने का फैसला लिया है. इस कदम से स्थानीय और पर्यावरण अनुकूल उत्पादों को बढ़ावा मिलेगा, साथ ही प्लास्टिक इस्तेमाल करने पर रोक लग सकेगी. इस पहल से कुम्हारों की आमदनी बढ़ाने में भी मदद मिलेगी.

केवीआईसी के चेयरमैन विनय कुमार सक्सेना ने कहा है कि रेलवे की इस पहल के बाद कुम्हारों को 30,000 इलेक्ट्रिक चाक देने का निर्णय लिया है. साथ ही मिट्टी के बने उत्पादों को रि-साइकल करने और उन्हें डिस्पोज करने के लिए ग्राइंडिंग मशीन भी मुहैया कराएंगे. उन्होंने कहा कि, 'हम इस वर्ष 30,000 इलेक्ट्रिक चाक दे रहे हैं. इससे प्रतिदिन 2 करोड़ कुल्हड़ और मिट्टी के सामान बनाए जा सकेंगे. यह प्रक्रिया अगले 15 दिन में आरंभ होने की उम्मीद है.'

केवीआईसी की ओर से बताया गया है कि केंद्रीय सूक्ष्म, लघु एवं मझोले उद्यम मंत्री नितिन गडकरी ने पिछले महीने इस संबंध में रेल मंत्री पीयूष गोयल को पत्र भेजकर रेलवे स्टेशनों पर कुल्हड़ जैसे मिट्टी के बर्तन के इस्तेमाल को लेकर संबंधित अधिकारियों को निर्देश देने का आग्रह किया था. आपको बता दें कि रेलवे प्रयोग के तौर पर यूपी के वाराणसी और रायबरेली रेलवे स्टेशनों पर इस वर्ष जनवरी से मिट्टी से बने बर्तनों का इस्तेमाल कर रहा था. दोनों ही स्टेशनों पर इस पहल से प्लास्टिक की समस्या से निपटने में सहायता मिली है.

लगातार तीसरे दिन सोने के दामों में आई गिरावट, जानिए क्या हैं आज के रेट

IRCTC का बड़ा ऐलान, अब इस ट्रेन के यात्रियों को मिलेगा 25 लाख का निःशुल्क बीमा

पेट्रोल-डीज़ल के दामों में फिर लगी आग, जानिए क्या हैं आज के भाव