पंजाब के मुस्लिमों को मिला 'ईद' का तोहफा, राज्य का 23वां जिला बना मालेरकोटला

May 14 2021 12:10 PM
पंजाब के मुस्लिमों को मिला 'ईद' का तोहफा, राज्य का 23वां जिला बना मालेरकोटला

अमृतसर: मालेरकोटला को पंजाब के 23वें जिले के रूप में घोषित कर दिया गया है। सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने ईद-उल-फितर के अवसर पर मालेरकोटला को जिला घोषित करने के साथ ही शुक्रवार को इस नए जिले के लिए नए DC की नियुक्ति की घोषणा भी कर दी है। कैप्टन ने मालेरकोटलावासियों के लिए उपहारों का ऐलान करते हुए कहा कि शेर मोहम्मद खान के नाम पर 500 करोड़ रुपये की लागत से मालेरकोटला में एक मेडिकल कॉलेज बनाया जाएगा।

उन्होंने कहा कि 12 करोड़ रुपये की लागत से लड़कियों के लिए एक और कॉलेज बनाया जाएगा। एक बस स्टैंड, एक महिला थाना भी बनेगा, जिसे केवल महिला कर्मचारी ही चलाएंगी। बता दें कि मालेरकोटला पंजाब का एकमात्र मुस्लिम बहुल इलाका है। मालेरकोटला के नवाब शेर मोहम्मद खान ने सरहिंद के सूबेदार का विरोध करते हुए श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के छोटे साहिबजादों का समर्थन किया था। इसके कारण पंजाब के इतिहास में उनका एक सम्मानित स्थान है।

नवाब शेर मुहम्मद खान ने श्री गुरु गोबिंद सिंह जी के दोनों छोटे साहिबजादों बाबा जोरावर सिंह और बाबा फतेह सिंह, जोकि उस वक़्त सात साल और नौ साल के थे, को जिन्दा दीवार में चिनवा देने के आदेश का खुलकर विरोध किया था। नवाब शेर मुहम्मद खान के इस बहादुरी भरे कदम के बारे में जानकारी मिलने पर दशमेश पिता श्री गुरु गोबिंद सिंह जी ने उन्हें आशीर्वाद दिया और मालेरकोटला की सुरक्षा का वचन दिया था। गुरु साहिब जी ने नवाब शेर मुहम्मद खान को श्री साहिब भी भेजा था।

आज फिर उछले पेट्रोल-डीजल के दाम, जानिए कितना हुआ बदलाव

भारत सरकार दे रही सोना खरीदने का सुनहरा मौका, 17 मई से शुरू होगी सॉवरेन गोल्ड बॉन्ड की बिक्री

छह महीने में 32.29 अरब डॉलर बढ़ा विदेशी मुद्रा भंडार, RBI ने दी गुड न्यूज़