अटलजी की प्रार्थना सभा में नम हुई राजनेताओं की आंखें

Aug 20 2018 07:14 PM
अटलजी की प्रार्थना सभा में नम हुई राजनेताओं की आंखें

नई दिल्ली: भारत रत्न और पूर्व प्रधान मंत्री अटल बिहारी वाजपेयी के लिए आज अखिल पार्टी की प्रार्थना बैठक इंदिरा गांधी स्टेडियम दिल्ली में आयोजित की गई है, राजनीतिक दुनिया से कई हस्तियां अटलजी के सम्मान में, इस आयोजन में शामिल होने इंदिरा गाँधी स्टेडियम पहुंची हैं. आयोजन में सबसे पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रार्थना सभा को सम्बोधित करते हुए पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी को याद किया. उन्होंने कहा अटलजी ने विपक्ष में कई वर्षों बिताए, लेकिन उनकी विचारधारा से कभी समझौता नहीं किया, उनके प्रयासों से भारत परमाणु शक्ति बन पाया है, पीएम मोदी ने कहा कि आखिर वो 'अटल' थे.

अटल 'प्रार्थना सभा' : भारत रत्न को याद करने के लिए एकजुट हुई राजनीति, दिग्गज हस्तियां मौजूद

वहीं अटलजी के राजनितिक साथी लालकृष्ण आडवाणी उनकी प्रार्थना सभा में भावुक हो गए, उन्होंने कहा कि मैंने कई सार्वजनिक बैठकों को संबोधित किया है लेकिन मैंने कभी सोचा नहीं था कि मुझे एक बार इस तरह की एक बैठक को संबोधित करना होगा, एक ऐसी बैठक जिसमे अटलजी मौजूद नहीं होंगे. उन्होंने कहा कि मैं खुद को भाग्यशाली समझता हूँ कि मेरी और अटलजी की मित्रता 65 वर्षों तक चली, इस दौरान मैंने उन्हें करीब से देखा, हमने साथ काम किया, साथ पुस्तकें पढ़ीं और साथ फ़िल्में भी देखी. 

अटल के निधन के बाद वायरल हो रही तस्वीरों की ये है असलियत...

वहीं कांग्रेस के वरिष्ठ नेता ग़ुलाम नबी आज़ाद ने भी अटलजी को याद करते हुए कहा कि उनके निधन के बाद भी वे हम सभी को एक छत के नीचे ले आए, ये अद्वितीय है. आज़ाद ने कहा कि जब मैं मंत्री था तो अटलजी विपक्ष के नेता था, लेकिन उस समय भी हम एक दूसरे के दफ्तर में जाकर साथ चाय-नाश्ता किया करते थे, वो एक अच्छा दौर था. अटलजी की इस प्रार्थना सभा में आरएसएस चीफ मोहन भागवत, जम्मू कश्मीर की पूर्व सीएम मेहबूबा मुफ़्ती, योग गुरु रामदेव, फारूख अब्दुल्लाह समेत कई राजनेता मौजूद थे. 

खबरें और भी:-

अटल बिहारी वाजपेयी के खिलाफ अपशब्द बोलने वाला पुलिस की गिरफ्त में

वाजपेयी जी एक उदार नेता थे : सलमान खुर्शीद

अटलजी अस्थि विसर्जन : गंगा में विलीन हुए देश के महान सपूत अटल बिहारी वाजपेयी