अटलजी अस्थि विसर्जन : गंगा में विलीन हुए देश के महान सपूत अटल बिहारी वाजपेयी

नई दिल्ली : अटल बिहार वाजपेयी की अस्थियां आज हिन्दू विधि-विधान के अनुसार हरिद्वार में पवित्र गंगा नदी में विसर्जित कर दी गई. अटलजी को मुखाग्नि देने वाली उनकी बेटी नमिता ने ही गंगा में उनकी अस्थियां विसर्जित की. बता दें कि इसी के साथ अटलजी की अस्थियां मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश समेत देशभर की कुल 100 नदियों में प्रवाहित की जाएगी. यह सिलसिला कल से शुरू हो सकता है. अस्थि विसर्जन के समय नमिता और अटल जी के परिजनों के साथ भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आदि भी मौजूद थे. 

अटलजी के निधन से सदमे में मुस्लिम परिवार, नहीं मनाएगा ईद

बता दें कि इससे पहले अमित शाह अटलजी के अस्थियों का कलश लेकर हरिद्वार पहुंचे थे. अटलजी की अस्थियों को विसर्जित करने के लिए मानो पूरा शहर उमड़ पड़ा हो. हरिद्वार में भारी सुरक्षा के बेच विधिपूर्वक अटल बिहार वाजपेयी की अस्थियों का विसर्जन किया गया. अस्थि विसर्जन से पूर्व भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, अटलजी की नातिन निहारिका और उनकी बेटे समेत तमाम लोगों ने उनकी अस्थियों पर पुष्पांजलि अर्पित की.

मौलाना सैफ अब्बास की मुस्लिमों से अपील, बकरीद शांतिपूर्वक मनाएं देश में शोक है

अटलजी की अंतिम यात्रा के तरह ही हरिद्वार में भी लोगों का हुजूम उमड़ पड़ा. अटलजी की अस्थियों को गंगा की ओर ले जा रही गाड़ी पर हर किसी ने फूलों की बौंछार की. इस दौरान गाड़ी में अटलजी के अस्थि कलश के पास अमित शाह, गृह मंत्री राजनाथ सिंह, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आदि मौजूद रहें. 

खबरें और भी...

अविवाहित जरूर पर कुंवारे नहीं थे अटल

कटाक्ष: क्या राष्ट्रद्रोही हैं सिद्धू?

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -