Pegasus विवाद: कांग्रेस के सुर में बोला पाकिस्तान- 'मोदी सरकार ने इमरान खान की जासूसी करवाई'

Jul 20 2021 03:47 PM
Pegasus विवाद: कांग्रेस के सुर में बोला पाकिस्तान- 'मोदी सरकार ने इमरान खान की जासूसी करवाई'

इस्लामाबाद: भारत में Pegasus के नाम पर बवाल मचने के बाद अब पाकिस्तान में भी इसका राग अलापना शुरू हो चुका है। कांग्रेस द्वारा राहुल गांधी की जासूसी कराने की बात कहे जाने के बाद अब पाकिस्तानी सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने कहा है कि भारतीय सरकार ने इजरायली सॉफ्टवेयर ‘Pegasus’ की मदद से उनके पीएम इमरान खान की भी जासूसी करवाई है। दरअसल, पाकिस्तान ने सोमवार को दावा किया था कि एक नंबर, जो पीएम इमरान खान ने कभी उपयोग किया था, वो भी रिपोर्ट्स के अनुसार, भारत की लिस्ट में था। चौधरी का कहना है कि वह इस जासूसी के मसले को आगे संबंधित मंचों पर अवश्य उठाएँगे।

 

एक साक्षात्कार में चौधरी ने कहा कि वह इस हैकिंग से संबंधित जानकारी एकत्रित करने की कोशिश कर रहे हैं। वहीं ट्विटर पर उन्होंने लिखा कि, 'गार्जियन न्यूज की खबरों पर काफ़ी चिंतित हूँ जिनमें कहा गया है कि भारतीय सरकार ने इजरायली सॉफ्टवेयर का उपयोग कर पत्रकारों, सियासी प्रतिद्वंदियों और राजनेताओं की जासूसी करवाई। मोदी सरकार की अनैतिक नीतियों ने भारत का खतरनाक तरीके से ध्रुवीकरण कर दिया है। अधिक जानकारी सामने आ रही हैं।' 

रिपोर्ट्स में दावा किया गया है कि पाकिस्तान के सैंकड़ों नंबरों की जासूसी की गई और इसमें एक नंबर इमरान खान से भी जुड़ा हुए है, जिसका उन्होंने कभी उपयोग किया था, किन्तु अब वह उसे नहीं चलाते। पहली बात तो ये कि फवाद के पोस्ट में खुद ये बात स्पष्ट नहीं है कि आखिर इमरान खान के नंबर की जासूसी हो पाई या नहीं। इसके साथ ही उन्होंने Pegasus पर रोना रोने में इतनी जल्दबाज़ी दिखाई, कि वह भूल गए कि यदि ऐसा वाकई हुआ है तो ये उनकी पार्टी और उनके देश की खुफिया एजेंसी की नाकामी है।

राष्ट्रपति भवन पर बकरीद की नमाज़ पढ़ रहे थे लोग, पास में ही बरसने लगे 'रॉकेट'

इजराइल में कोरोना वैक्सीन का 'बूस्टर डोज़' लगना शुरू, जानिए इसमें क्या है खास

आयरलैंड ने अंतरराष्ट्रीय पर्यटकों पर से हटाया प्रतिबंध