ऑप्टिकल फाइबर केबल का हुआ विस्तार, मिलेगा हाई स्पीड इंटरनेट

ऑप्टिकल फाइबर केबल का हुआ विस्तार, मिलेगा हाई स्पीड इंटरनेट

ताड़ के पेड़, सफेद रेत वाले सुदंर सागरी तटों और उष्णकटिबंधीय वर्षा वनों के लिए अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह पूरे विश्व में लोकप्रिय है.पर्यावरण की गोद में बसा यह आइलैंड हर किसी को लुभा रहा है.हाल ही में मुल्क के पीएम नरेंद्र मोदी ने अंडमान-निकोबार को सबमरीन ऑप्टिकल फाइबर केबल (OFC) की सौगात दी.ये फाइबर केबल चेन्नई से पोर्ट ब्लेयर तक समुद्र के अंदर बिछाई गई है.इसे पोर्ट ब्लेयर के अलावा अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह के 6 अन्य द्वीप स्वराज द्वीप, लिटिल अंडमान, कार निकोबार, कामरोता, ग्रेट निकोबार, लॉन्ग आइलैंड, रंगत में भी पहुंचाया जाएगा, जिससे पूरे अंडमान निकोबार को तेज स्पीड इंटरनेट मिल पाएगा.

सैमसंग का ये बेहतरीन फ़ोन हो सकता है 7,000mAh बैटरी के साथ लॉन्च

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने 30 दिसंबर, 2018 को चेन्नई-अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह प्रोजेक्ट (CANI) की प्रारंभ किया था.इस प्रोजेक्ट के अनुसार सागर के अंदर 2,312 किलोमीटर की ऑप्टिकल फाइबर केबल बिछाई गई है.इस पर करीब 1,224 करोड़ रुपये की लागत आई है.उद्घाटन के बाद प्रधानमंत्री नरेद्र मोदी ने कहा कि अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह में OFC कनेक्टिविटी के कारण इन द्वीपों पर 4G मोबाइल सेवाओं को बढ़ावा मिलेगा.इससे टेली-एजुकेशन, टेलीहेल्थ, ई-गवर्नेंस सर्विसेज और द्वीपों पर पर्यटन जैसी डिजिटल सेवाओं को प्रसिध्दी मिलेगी। 

ग्राहकों के लिए BSNL लेकर आया खास तोहफा, मिल रहा है इतना फ्री डाटा

उन्होंने बताया अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह में कनेक्टविटी बेहतर होने से यहां के लोगों की जिंदगी और शिक्षा के स्तर में परिवर्तन आएगा और रोजगार का मौका पैदा होंगे.पीएम मोदी ने कहा कि बेहतर नेट कनेक्टिविटी आज किसी भी पर्यटन स्थल की पहली प्राथमिकता बन गई है.इस इलाके में कनेक्टविटी के बेहतर होने से पर्यटन के क्षेत्र में कई मौके पैदा होंगे। 

ओप्पो ने Enco W11 के दाम में की भारी कटौती, जानें नई कीमत

POCO ला रहा है 120Hz डिस्प्ले वाला शानदार स्मार्टफोन, जल्द होगा लॉन्च

भारत में जल्द लॉन्च हो सकता है Nokia C3, प्रमोशनल पोस्टर आया सामने