मेकेदातु परियोजना पर नहीं होगा कोई समझौता: सीएम बोम्मई

विधान सौध में अधिकारियों के साथ बैठक के बाद, कर्नाटक के मुख्यमंत्री बोम्मई ने संवाददाताओं से कहा कि मेकेदातु परियोजना पर कोई समझौता नहीं होगा क्योंकि केंद्र सरकार द्वारा परियोजना को मंजूरी मिलने के बाद राज्य इसे लॉन्च करेगा। उन्होंने एक सवाल के जवाब में कहा, "तमिलनाडु में जो लोग विरोध कर रहे थे, वे राजनीतिक कारणों से ऐसा कर रहे हैं।"

बोमनी ने कहा कि पानी की कमी के दौरान यह परियोजना दोनों राज्यों के लिए फायदेमंद साबित होगी। उन्होंने कहा, "हमने पहले ही एक विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार कर ली है और इसे हाल ही में जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत को सौंप दिया है और मुझे विश्वास है कि परियोजना रिपोर्ट को केंद्र सरकार द्वारा अनुमोदित किया जाएगा और इसके तुरंत बाद परियोजना को आगे बढ़ाया जाएगा।" 

वही परियोजना पर काम शुरू हो जाएगा और इस पर कोई समझौता नहीं होगा। अगर कोई विरोध कर रहा है, तो हम चिंतित नहीं हैं और हम इसे गंभीरता से नहीं ले रहे हैं, प्रस्तावित मेकेदातु (बकरी की छलांग) जलाशय परियोजना कावेरी नदी और उसकी सहायक अर्कावती के संगम पर एक गहरी खाई में बनाने का प्रस्ताव है। 

प्रधानमंत्री मोदी ने की संसद ठप करने के लिए विपक्ष की निंदा, कही ये बात

क्या बातचीत से सुलझ पाएगा असम-मिजोरम सीमा विवाद ?

दक्षिण चीन में तूफान ने दी दस्तक, 33,000 से अधिक लोगों को किया बाहर

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -