MP: बैलगाड़ी से वैक्सीनेशन सेंटर पहुंची 88 साल की बुजुर्ग, लगवाई वैक्सीन

भोपाल: कोरोना वायरस महामारी से बचने के लिए देशभर में वैक्सीनेशन महाअभियान चल रहा है। इस अभियान के शुरुआती दौर में वैक्सीनेशन टीमों को कई जगह लोगों के विरोध का सामना करना पड़ा और कई बार तो वैक्सीनेशन टीमें पूरे दिन बैठकर वापस लौट आईं क्योंकि कोई भी वैक्सीन लगवाने नहीं आया। हालाँकि अब मध्य प्रदेश में ऐसा नहीं हो रहा है। यहाँ दिन पर दिन वैक्सीन लगवाने वालों के आंकड़े बढ़ रहे हैं। कई राज्यों में गांव के नागरिक वैक्सीन लगवाने के लिए आगे नहीं आ रहे हैं लेकिन मध्य प्रदेश में ऐसा नहीं है। यहाँ से हाल ही में उत्साह बढ़ाने वाली एक तस्वीर सामने आई है।

यहाँ लोगों को वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित करती खूबसूरत तस्वीर है जो आप देख सकते हैं। जी दरअसल मध्य प्रदेश के छिंदवाड़ा जिले में कोरोना से बचाव के लिए 88 साल की बुजुर्ग महिला वैक्सीन लगवाने वैक्सीनेशन सेंटर पहुंचीं। बताया जा रहा है बुजुर्ग महिला को चलने में दिक्कत थी, ऐसे में परिजन बुजुर्ग महिला को बैलगाड़ी से घर से कुछ दूरी पर स्थित वैक्सीनेशन सेंटर तक लेकर पहुंचे। मिली जानकारी के अनुसार वैक्सीनेशन के लिए बैलगाड़ी से पहुंचीं 88 साल की महिला मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ की कर्मभूमि छिंदवाड़ा जिले की पंचायत पिपरिया लालू की निवासी है।

बताया जा रहा है छिंदवाड़ा के पिपरिया लालू पंचायत की निवासी महिला ने बैलगाड़ी से वैक्सीनेशन सेंटर जार वैक्सीन लगवाया। इस समय बुजुर्ग महिला की ये तस्वीर सभी को खुश कर रही है। यह तस्वीर अन्य लोगों को भी वैक्सीनेशन सेंटर तक जाने और वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित कर रही है। आप सभी जानते ही होंगे कि मध्य प्रदेश में वैक्सीनेशन का अभियान लगातार चल रहा है। यहाँ वैक्सीनेशन टीमें दूर-दराज के सुदूरवर्ती गांवों में जा रही हैं और वैक्सीनेशन कर रही हैं। यहाँ स्वास्थ्य विभाग की टीम दुर्गम स्थान पर भी पहुंच कर वैक्सीनेशन कर रही है।

आज है षष्ठी का श्राद्ध, जानिए क्या करें और क्या न करें?

आज दस्तक देगा चक्रवाती तूफान 'गुलाब', आंध्र प्रदेश और ओडिशा के लिए चेतावनी जारी

ख़त्म हुआ इंतज़ार... महराष्ट्र में 22 अक्टूबर से खुल जाएंगे सिनेमाघर और नाट्यगृह

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -