8 लाख का लोन लेकर खेती की, लेकिन बारिश में बर्बाद हो गई फसल... किसान ने की ख़ुदकुशी

मुंबई: महाराष्ट्र के लातूर जिले में ऋण में डूबे 24 साल के एक किसान ने भारी बारिश की वजह से फसल बर्बाद होने पर एक बैराज में कूदकर ख़ुदकुशी कर ली. पुलिस के अनुसार, घटना शिरूर अनंतपाल तहसील के अंतर्गत आने वाले डोंगरगांव गांव में शुक्रवार रात हुई. मृतक की शिनाख्त अजीत विक्रम बान के रूप में हुई है. 
    
पुलिस अधिकारी ने बताया कि किसान के पास चार एकड़ भूमि थी, मगर कुछ माह पूर्व मराठवाड़ा क्षेत्र में हुई भारी बारिश के चलते उसकी पूरी फसल तबाह हो गई. इसके कारण वह तनाव में रहने लगा. उसने बैंकों से आठ लाख रुपये का कर्ज  लिया था, इसके साथ ही खाद-बीज के लिए भी हजारों रुपये खर्च किए थे, किन्तु फसल बर्बाद होने के चलते वह अवसाद में रहने लगा. उसे हर समय नुकसान होने की चिंता सताती थी. पुलिस के अनुसार, उसने फसल में हुए नुकसान के मुआवजे के लिए जिला अधिकारियों और स्थानीय नेताओं को चिट्ठियां भी लिखी, ताकि कुछ बड़ी आर्थिक मदद मिल जाए, मगर उसे केवल सात हजार रुपये की ही मदद मिली. इस वजह से किसान अजीत विक्रम बान परेशान रहने लगा. 

पुलिस अधिकारी ने बताया कि फसल बर्बाद होने और कर्ज के कारण वह अंदर से टूट गया, लिहाजा उसने एक बैराज में कूदकर ख़ुदकुशी कर ली. उन्होंने बताया कि थाने में दुर्घटनावश मौत का केस दर्ज कर लिया गया है. मृतक किसान के परिवार में उसके माता-पिता, पत्नी और डेढ़ साल की बेटी है. 

इस दिन पीएम मोदी करेंगे नोएडा एयरपोर्ट का शिलान्यास

संयुक्त राष्ट्र पुरस्कार पाने के लिए माइक्रोसॉफ्ट ने किया ये काम

संयुक्त राष्ट्र ने लीबिया के आगामी चुनावों के लिए दोहराया अपना समर्थन

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -