मजदूरों के रोजगार का वादा पूरा करने के लिए योगी सरकार ने किया यह काम

उत्तरप्रदेश लॉकडाउन के बीच में भी योगी आदित्यनाथ सरकार पांच लाख लोगों को रोजगार देने का अपना वादा पूरा करने में लगी है.प्रवासी कामगारों को काम देने के साथ ही अन्य प्रतिभावान लोगों को उनकी क्षमता के अनुरूप काम देने के प्रयास में लगी प्रदेश सरकार ने गांवों में 58 हजार बैंकिंग सखी तैनात करने की योजना तैयार की है. इनको बैंकिंग से जुड़े कामों के बदले में कमीशन प्रदान किया जाएगा.

सोनिया गाँधी के खिलाफ दर्ज हुई FIR, PM केयर्स फंड से जुड़ा है मामला

आपकी जानकारी के लिए बता दे कि लखनऊ में लोक भवन में टीम 11 के साथ बैठक में मुख्यमंत्री ने ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं के लिए रोजगार की नई योजना पर चर्चा की. फिलहाल तो सरकार का विचार प्रदेश भर के ग्रामीण क्षेत्रों में 58 हजार बैंकिंग सखी प्रतिनिधि तैनात करने का है. यह लोगों की बैंक से जुड़े कार्यों में मदद करेंगी. इन्हेंं काम के आधार पर कमीशन दिया जाएगा.

महाराष्ट्र :कोरोना से एक और पुलिसकर्मी की मौत, अब तक 13 गँवा चुके हैं जान

इसके अलावा मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने वैश्विक महामारी कोरोना के संकट के समय में देश की ग्रामीण अर्थव्यवस्था की रीढ़ बनने वाले महिला स्वयं सहायता समूहों को आज रिवॉल्विंग फंड के साथ ही कम्युनिटी इंवेस्टमेंट फंड से 218 करोड़ 49 लाख की सहायता प्रदान की. सीएम योगी आदित्यनाथ ने इस अवसर पर कहा कि महिला स्वयंसेवी समूहों को यदि रिवॉल्विंग फंड और कम्युनिटी इंवेस्टमेंट फंड समय पर उपलब्ध करवा दिए जाते हैं, तो बहुत बड़ा काम हो सकता है. यह ग्रामीण स्वावलम्बन के आदर्श उदाहरण बन सकते हैं. इससे उनकी प्रतिभा का लाभ उत्तर प्रदेश को मिलेगा और हम उत्तर प्रदेश को देश और दुनिया के सामने अग्रणी स्थान पर ले आएंगे.

प्रियंका गाँधी ने शेयर की पिता के साथ वाली आखिरी तस्वीर, लिखा भावुक पोस्ट

इस के पाक मौके पर म्यांमार के राष्ट्रपति ने 700 से अधिक कैदियों को दिया क्षमादान

मैडिंगली में मोटरसाइकिल सवार हुआ मौत का शिकार

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -