केरल और महाराष्ट्र में कोरोना ने बढ़ाई केंद्र की टेंशन, गृह सचिव ने दोनों राज्यों को लिखा पत्र

नई दिल्ली: पूरे देश में एक तरफ कोरोना की रफ्तार थमती नजर आ रही है, वहीं अचानक महाराष्ट्र और केरल के रोजाना के मामलों ने समस्या बढ़ा दी है. बढ़ते पॉजिटिविटी रेट और सक्रीय मामले सरकार के लिए सिरदर्द बने हुए हैं. अचानक बढ़ते मामलों के कारण गृह मंत्रालय भी बेहद चिंतित है. ऐसे में मंत्रालय के अजय भल्ला ने राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश की सरकार को इस बाबत पत्र लिखा है.

गृह सचिव अजय भल्ला ने राज्यों को लिखे पत्र में प्रशासन से उन जिलों, क्षेत्रों के लिए प्रो एक्टिव कंटेनमेंट के लिए कदम उठाने के निर्देश दिए हैं, जहां हाई पॉजिटिविटी रेट है. उन्होंने लोकलाइज्ड अप्रोच को आवश्यक बताते हुए कहा कि संक्रमण में उछाल के संकेत की पहचान कर उसे काबू करने के लिए उचित कदम उठाना होगा. गृह सचिव ने त्योहारी सीजन को देखते हुए भीड़ से बचने के लिए उपयुक्त उपाय करने की भी हिदायत दी है.

गृह सचिव ने राज्य और केंद्र शासित प्रदेश की सरकार से यह भी कहा है कि बड़ी भीड़ को रोकने के लिए जरूरी हो, तो स्थानीय स्तर पर सख्ती बरतें. उन्होंने ये भी कहा है कि हमें कोरोना के असरदार प्रबंधन के लिए टेस्ट, ट्रैक, ट्रीट, टीकाकरण और कोरोना उपयुक्त व्यवहार का पालन करना चाहिए. कोरोना काबू करने के लिए कोरोना उपयुक्त व्यवहार को लागू किया जाना आवश्यक है.

आरबीआई गवर्नर ने कहा- "भारत में डिजिटल रुपये के लिए परीक्षण दिसंबर तक...."

काबुल अटैक: शरीर पर 11 किलो विस्फोटक बांधकर भीड़ में घुसा था आतंकी, पूरा एयरपोर्ट उड़ाने की थी साजिश

हुंडई मोटर को आगामी त्योहारी सीजन के दौरान अच्छी बिक्री की उम्मीद

 

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -