13 फिल्मफेयर अवार्ड जीत चुके है जॉनी लीवर, जानें जीवन के रोचक तथ्य

13 फिल्मफेयर अवार्ड जीत चुके है जॉनी लीवर, जानें जीवन के रोचक तथ्य

आज यानी 14 अगस्त को इंडियन सिनेमा के मशहूर कॉमेडी एक्टर जॉनी लीवर का जन्मदिन है. आज इस खास मौके पर उनके जीवन से जुड़ी विशेष जानकारी आपको देने वाले है. आज ही के दिन सन् 1957 को आंध्र प्रदेश में जॉनी लीवर का जन्म हुआ था. उन्होने बेस्ट कॉमेडियन कैटेगरी में 13 फिल्मफेयर अवार्ड्स जीत हैं. सन् 1984 में अपने मूवी करियर की शुरुआत करने वाले जॉनी अब तक 350 से ज़्यादा फिल्मों में अभिनय कर चुके हैं.

संजय दत्त को अमेरिका जाने में आ सकती है कई दिक्कतें, जाने पूरा मामला

आर्थिक स्थिति खराब होने के चलते जॉनी अधिक पढ़ नहीं सके. उन्होंने आंध्र प्रदेश के एक तेलुगू स्कूल से सातवीं तक पढ़ाई की. कम उम्र में ही वे मुंबई आ गए थे और अपना गुजारा चलाने के लिए उन्होंने कई तरह के काम किए. पेट भरने के लिए उन्होंने मुंबई की सड़कों पर पेन भी बेचे. वो बॉलीवुड गानों पर डांस करते हुए और फिल्म एक्टर्स की नकल करते हुए पेन बेचते थे. इंट्रेस्ट और लगन के दम पर उन्होंने अपने मिमिक्री टैलेंट को विकसित किया. इस कार्य में उनकी सहायता मिमिक्री आर्टिस्ट प्रताप जैन और राम कुमार ने की.

सोनू सूद के कारण चल सकेगी यूपी की प्रज्ञा, पिता ने दिया भगवान का दर्जा

अगर आपको नही पता तो बता दे कि जॉनी मुंबई की हिंदुस्तान लीवर कंपनी में अपने पिता के साथ कार्य भी कर चुके हैं. यहां वो कार्य करते हुए सहकर्मियों को अपने कॉमेडी टैलेंट से हंसाते भी रहते थे. धीरे-धीरे वो फैक्ट्री के दूसरे कर्मचारियों और अधिकारियों के बीच लोकप्रिय हो गए और यहां उन्हें नाम मिला 'जॉनी लीवर'.जॉनी काम के साथ-साथ शो भी करने लगे, जिससे उन्हें अलग पहचान मिलने लगी. एक शो में बॉलीवुड एक्टर सुनील दत्त ने उनके टैलेंट को पहचाना और उन्हें 'दर्द का रिश्ता' में काम करने का अवसर दिया.यहीं से प्रारंभ हुआ जॉनी की सफलता का सिलसिला. वो अब तक लगभग 300 से अधिक फिल्मों में कार्य कर चुके हैं.

चार वर्ष की आयु से गाना गाने की कर दी थी शुरुआत, तीन हजार से अधिक गा चुकी हैं सांग्सगायक

जुबिन नौटियाल के पिता को हुआ कोरोना, एम्स ऋषिकेश में हुए एडमिट

सुशांत की डायरी के पन्ने आए सामने, जिनमे है कई अनगिनत सपने