मौसम विभाग की भविष्यवाणी ने डराया, इन राज्यों पर मंडराया आफत का साया

नई दिल्ली: भारतीय मौसम विभाग (IMD) ने शनिवार की सुबह कहा कि पूर्वोत्तर और उससे लगे पूर्व-मध्य बंगाल की खाड़ी के ऊपर बना दबाव एक गहरे दबाव में तब्दील हो गया है और आने वाले 12 घंटों में यह और तेज होकर एक चक्रवाती तूफान में बदल जाएगा. आंध्र प्रदेश  और ओडिशा के लिए चक्रवात अलर्ट जारी करते हुए, मौसम विभाग ने कहा है कि इस प्रणाली का 26 सितंबर की शाम तक कलिंगपट्टनम (Kalingapatnam) के आसपास दक्षिण ओडिशा और उत्तरी एपी तटों को पार करने का अनुमान है.

उत्तरी आंध्र प्रदेश और इससे लगे दक्षिणी ओडिशा के तट पर, पूर्वी मध्य प्रदेश और आसपास हवा के ऊपरी हिस्से में एक चक्रवात बना हुआ दिखाई दे रहा है. इसका कारण ये है कि बंगाल की खाड़ी में हवा का एक गहरा और कम दबाव का क्षेत्र बन गया है. वहीं मौसम विभाग के मुताबिक, इस चक्रवातीय संरचना के बनने से आने वाले 5 दिनों के दौरान पूर्वी राजस्थान, पश्चिम मध्य प्रदेश, गुजरात राज्य और कोंकण और गोवा में भारी बारिश हो सकती है.

इसके साथ ही, ओडिशा के कुछ जिलों में 26 और 27 सितंबर को छिटपुट, भारी से बहुत भारी (12-20 सेमी) बारिश हो सकती है. IMD ने यह भी कहा कि भद्रक, केंद्रपाड़ा, कटक, जगतसिंहपुर, पुरी, खोरधा, नयागढ़ और गंजम जिलों में विभिन्न स्थानों पर 25 सितंबर की सुबह 8 बजे से 26 सितंबर की सुबह 8 बजे के बीच भारी बारिश होने का अनुमान है. इसी प्रकार, कंधमाल, गंजम, रायगडा और गजपति में 26 सितंबर की सुबह 8 बजे से 27 सितंबर की सुबह 8 बजे के बीच कुछ स्थानों पर बेहद भारी (20 सेमी से अधिक) के साथ भारी से बहुत भारी वर्षा का अनुमान जताया गया है.

कंगना ने की इस मशहूर अभिनेता की तारीफ़

'ये लोग ओसामा को शहीद कहते हैं ...', जब पूरी दुनिया के सामने भारत ने Pak को लताड़ा

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद ने 2019-20 के लिए राष्ट्रीय सेवा योजना पुरस्कार किए प्रदान

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -