'उसकी सेना की नौकरी छुड़वा दूंगा, मेरा बेटा लौटा दो..', जावेद के पिता की अपील, जवान को किडनैप कर ले गए आतंकी !

'उसकी सेना की नौकरी छुड़वा दूंगा, मेरा बेटा लौटा दो..', जावेद के पिता की अपील, जवान को किडनैप कर ले गए आतंकी !
Share:

श्रीनगर: इंडियन आर्मी का जवान जावेद वानी शनिवार (29 जुलाई) शाम से लापता है. जावेद की तलाश में साउथ कश्मीर के कुलगाम में तलाशी अभियान चलाया जा रहा है, मगर अभी तक उसका कुछ पता नहीं चला है. इसी बीच वानी के माता-पिता ने अपने बेटे की सलामती को लेकर आतंकियों से अपील की है. उन्होंने मार्मिक अपील करते हुए अपने बेटे को सही सलामत छोड़ देने का आग्रह किया है.

रिपोर्ट के अनुसार, जावेद के पिता मोहम्मद अय्यूब वानी ने कहा है कि, 'मैं सारे भाइयों से अपील करता हूं, यदि किसी के पास मेरा बेटा है, तो उसको जिंदा छोड़ दो. वो ऐसा लड़का नहीं था, यदि कहोगे तो में उसकी सेना की नौकरी भी छुड़वा दूंगा. मोहम्मद अय्यूब ने अपने बेटे को लौटाने गुहार लगाते हुए कहा कि उसने (जावेद) गांव में दो लोगों को खून भी दिया है और उसकी किसी के साथ कोई रंजिश नहीं थी. घटना के दिन को याद करते हुए अय्यूब ने कहा कि उनका बेटा शनिवार शाम को खाने की सामग्री लेने के लिए गया था. उसको वापस ड्यूटी जॉइन करने जाना था. उसने भाई को कहा था कि उसे सुबह हवाई अड्डे पर छोड़ देना. इसी बीच उन्हों फोन आता है और बताया जाता है कि एक गाड़ी बरामद हुई है, जो खुली हुई है. जब ये जानकारी मिलते ही जावेद के पिता मौके पर पहुंचे तो देखा कि वहां गाड़ी खुली हुई थी, मगर जावेद वहां नहीं था.

जावेद के पिता ने बताया कि गाड़ी के दरवाजे पर खून लगा था. ये बताते हुए जावेद के पिता फिर अनुरोध करते हुए कहते हैं, ‘मैं गुजारिश करता हूं उसको जिंदा छोड़ दो, हमारे घर में वहीं कमाने वाला है. मेरी बीवी भी बीमार है. मैं विनती करता हूं आपकी मेहरबानी होगी. जावेद की मां ने भी उसकी सकुशल वापसी को लेकर अपील की है. उन्होंने कहा कि मेरा बेटा मासूम है और काफी छोटा भी है. यदि उसने कुछ गलत किया है तो मैं माफी मांगती हूं. मैं विनती करती हूं कि उसे सही सलामत घर भेज दो.

मोहम्मद अय्यूब कहते हैं कि, मेरा बच्चा सेना में है. वो लद्दाख में ड्यूटी पर था. यहां ईद के लिए दो-चार दिन पहले ही वो छुट्टी लेकर आया था. कल सुबह उसको वापस लौटना था. उसको जिसने भी अगवा किया है, वो जो भी है मैं विनती करता हूं उनसे कि उसे छोड़ दें. मेरे घर में मेरी पत्नी दिल की मरीज है. हमारे घर पर कोई कमाने वाला नहीं है. वहीं कमाता था. मैं अनुरोध करता हूं आप भी हमारे लड़के हो, उसको बगैर नुकसान पहुंचाए घर वापस छोड़ दो.

बता दें कि, जावेद अहमद वानी की तैनाती लेह में थी. वो ईद के मौके पर छुट्टी लेकर साउथ कश्मीर में अपने घर आया हुआ था. यहीं कुलगाम इलाके में शाम को खाने का कुछ सामान लेने निकला, तो जावेद वापस ही नहीं लौटा. अश्थल इलाके से उसकी गाड़ी बरामद हुई थी. जिसके दरवाजे पर खून लगा हुआ था. उसकी तलाश के लिए सेना ने सर्च ऑपरेशन चला रखा है. वहीं इसी बीच जावेद के माता-पिता ने वीडियो मैसेज जारी कर उसकी सुरक्षित वापसी की अपील की है.

'बद्रीनाथ धाम बौद्ध मठ को तोड़कर बनाया गया..', सपा नेता स्वामी प्रसाद के बयान पर क्या बोलीं मायावती ?

मणिपुर के नाम पर महाराष्ट्र में उपद्रव, प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर किया पथराव, 10 पुलिसकर्मी घायल

'मेरी माटी मेरा देश', पीएम मोदी ने लॉन्च किया अभियान, जानिए इसमें क्या है ख़ास

रिलेटेड टॉपिक्स
- Sponsored Advert -
मध्य प्रदेश जनसम्पर्क न्यूज़ फीड  

हिंदी न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_News.xml  

इंग्लिश न्यूज़ -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_EngNews.xml

फोटो -  https://mpinfo.org/RSSFeed/RSSFeed_Photo.xml

- Sponsored Advert -