अरविंद त्रिवेदी नहीं अमरीश पुरी को मिलना था 'रावण' का किरदार, फिर इस तरह मिला रोल

80 के दशक में दूरदर्शन पर प्रसारित हुए रामानंद सागर के बहुत मशहूर पौराणिक सीरियल 'रामायण' में रावण की भूमिका निभाने वाले मशहूर एक्टर अरविंद त्रिवेदी का मंगलवार की रात 11 बजे देहांत हो गया। 83 वर्षीय अरविंद त्रिवेदी ने अपने घर पर आखिरी सांस ली। इस बात की खबर एक्टर अरविंद त्रिवेदी की बेटी एकता ने दी। उन्होंने कहा कि ''उनका देहांत घर पर ही हुआ एवं वो किसी भी प्रकार से बीमार नहीं थे। मगर कल रात उन्हें अचानक हार्ट अटैक आया तथा उनकी मौत हो गई। प्रतिदिन की भाँती ही वो कल भी हमसे हँसी मज़ाक कर रहे थे एवं शिव महिमा स्रोत एवं 'राम' नाम का जाप कर रहे थे।

बता दे कि रामानंद सागर के धारावाहिक 'रामायण' में रावण की भूमिका निभाकर अरविंद त्रिवेदी ने जबरदस्त लोकप्रियता बटोरी थी। वो मूल तौर पर मध्य प्रदेश के इंदौर से ताल्लुक़ रखते थे। उन्होंने 250 से भी अधिक गुजराती फ़िल्मों में काम किया। अरविंद त्रिवेदी ने अपने एक इंटरव्यू में बताया था कि वो गुजरात में थिएटर से जुड़े थे तथा उन्हें पता चला कि रामानंद सागर 'रामायण' बना रहे हैं एवं भूमिकाओं की कास्टिंग कर रहे हैं तो वो ऑडिशन देने के लिए गुजरात से मुंबई आए। वो केवट की भूमिका निभाना चाहते थे।

उन्होंने बताया था, "इस धारावाहिक में रावण की भूमिका के लिए सबकी मांग थी कि एक्टर अमरीश पुरी को कास्ट किया जाए। मैंने केवट की भूमिका के लिए ऑडिशन दिया एवं जब बाहर निकलने लगा तो मेरी बॉडी लैंग्वेज एवं ऐटीट्यूड देख कर रामानंद सागर जी ने कहा कि मुझे मेरा रावण मिल गया।'' स्वयं अरुण गोविल भी इस बात को मानते हैं कि उन्होंने और टीम ने रामानंद सागर से कहा था कि एक्टर अमरीश पुरी इस भूमिका के लिए पूरी तरह से फ़िट बैठते हैं।' अरविंद त्रिवेदी की भूमिका इतनी जबरदस्त थी कि जब उनकी आवाज़ टेलीविज़न पर दशानन लंकेश के तौर पर गूंजती थी, तो लगता था कि वास्तविक रावण ही छोटे पर्दे पर उतर आया है।

पीएम मोदी ने स्वामित्व योजना के 1,71,000 लाभार्थियों को वितरित किए ई-प्रॉपर्टी कार्ड

'बिग बॉस 15' के इस कंटेस्टेंट के साथ था सिद्धार्थ शुक्ला का आखिरी प्रोजेक्ट

अरविंद त्रिवेदी के निधन से देशभर में शोक की लहर, पीएम मोदी से लेकर इन स्टार्स ने जताया शोक

- Sponsored Advert -

Most Popular

- Sponsored Advert -